हिसार में दिल दहला देने वाला हादसा हुआ है। परिवार के सामने तीन मासूम ट्रेन के इंजन की चपेट में आ गए। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई
May 13th, 2020 | Post by :- | 32 Views

हिसार (लवकेश कथूरिया) हिसार के सत्यनगर में रेल हादसे में 3 बच्चों को दर्दनाक मौत हो गई, मरने वाले तीनों में दो बच्चे सगे भाई हैं। तीनों बच्चों को शवों को पोस्टमार्टम के लिए हिसार के सामान्य अस्पताल में लाया गया है और पुलिस ने घटना की छानबीन शुरु कर दी है। बताया जा रहा है कि देर शाम को तीन बच्चे सत्यनगर के पास स्थित रेलवे ट्रेक को बच्चे पार कर रहे थे। इसी दौरान एक रेल इंजन शंटिंग कर रहा था, जिसकी चपेट में तीनों बच्चे 8 वर्षीय अजीत, 5 वर्षीय गोलू, व 12 वर्षीय रवि आ गए, जिससे दो बच्चों ने मौके पर दम तोड़ दिया, जबकि एक बच्चे ने अस्पताल लाते हुए रास्ते में दम तोड़ दिया। सत्‍यनगर गली नंबर एक के पास रेलवे ट्रैक है। ट्रैक के पास ही लगते क्षेत्र में बिहार के मजदूर परिवार रहते है

शवो को पुलिस की मदत से सामान्य अस्पताल में लाया गया। बताया जा रहा है कि मृतक बच्चों के माता पिता पिछले कई सालों से हिसार में दिहाड़ी मजदूरी का काम करते हैं। पार्षद अनिल जैन ने कहा कि यहां रेलवे ट्रेक के समीप बड़ी-बड़ी दीवार बनानी चाहिए, जिससे यहां पर कोई हादसा न हो सके। उनकी मांग है कि सरकार द्वारा मजदूर परिवार को मुआवजा मिलना चाहिए।        परिजनों ने आरोप लगाया कि इस घटना का जिम्मेवार रेल इंजन का चालक है, चालक ने कोई हार्न नहीं दिया था, जिसके कारण यह हादसा हुआ है। वहीं जीआरपी थाना प्रभारी प्रदीप का कहना है कि तीनों बच्चों के शवों का पोस्टमार्टम के लिए हिसार सामान्य अस्पताल में लाया गया है और पुलिस ने घटना की छानबीन शुरु  दी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।