पूर्वी राजस्थान में शिक्षा की अलख जगाने वाली डीएस साइंस एकेडमी का ऑनलाइन एप लांच: देश व राज्य के विद्यार्थियों को घर बैठे मिलेगी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा
May 12th, 2020 | Post by :- | 60 Views

पूर्वी राजस्थान में शिक्षा की अलख जगाने वाली डीएस साइंस एकेडमी का ऑनलाइन एप लांच: देश व राज्य के विद्यार्थियों को घर बैठे मिलेगी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा

-निदेशक इंजीनियर उमेश शर्मा की पहल: आॅनलाइन स्टडी के व्यवस्थापन के भारी खर्च व चुनौतियों के बावजूद 15 जून तक सभी वर्गों के विद्यार्थियों को ऑनलाइन एप का निशुल्क मिलेगा फायदा

-एज्युकेशन टीम में शामिल राष्ट्रीय स्तर के आईआईटीयन्स विद्यार्थियों को देंगे ज्ञान, रजिस्ट्रेशन शुरु, 15 मई से शुरु होंगे नए बैच

गंगापुर सिटी।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन से जिंदगी थम सी गई हैं। सभी लोगों को घरों में रहने के लिए पाबंद किया हुआ है तो पुलिस-प्रशासन के अधिकारी व चिकित्साकर्मी कोरोना से जंग जीतने में दमखम से जुटे हुए हैं। इस महामारी के काल में स्टूडेंट के भविष्य को देखते हुए पूर्वी राजस्थान में शिक्षा की अलख जगाने का पर्याय माने जाने वाली शहर की नसियां कॉलोनी स्थित डीएस साइंस एकेडमी ने ऑनलाइन एप लांच किया हैं। यह सब कुछ संस्थान के निदेशक इंजीनियर उमेश शर्मा की बदौलत ही संभव हो सका है। जिन्होंने आॅनलाइन स्टडी के व्यवस्थापन के भारी खर्च व चुनौतियों के बावजूद विद्यार्थियों के हितों को सर्वोपरि मानते हुए घर बैठे गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने का बीड़ा उठाया है। 15 जून तक देश व राज्य के सभी वर्गों के विद्यार्थी निशुल्क ऑनलाइन एप के माध्यम से एज्युकेशन टीम में शामिल राष्ट्रीय स्तर के आईआईटीयन्य का मार्गदर्शन प्राप्त कर सकेंगे। रजिस्ट्रेशन का कार्य शुरु कर दिया गया है और 15 मई से नए बैच शुरु होंगे।

रजिस्ट्रेशन शुरु, गूगल प्ले स्टोर से एप किया जा सकेगा डाउनलोड

एकेडमिक हैड आशुतोष वर्मा ने बताया कि रजिस्ट्रेशन का कार्य शुरु कर दिया गया है। गूगल प्ले स्टोर से एप को डाउनलोड किया जा सकता है। मोबाईल नं0 7737320856 पर काॅल करके भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

उदघाटन के साथ ही जुड़े 2 हजार विद्यार्थी

एक सादा समारोह में सोशल डिस्टेंसिंग की अनुपालना करते हुए संस्था के निदेशक उमेश शर्मा, प्रिंसिपल अशोक शर्मा एवं अकेडमिक हैड आशुतोष वर्मा द्वारा अधिकारिक रूप से डी.एस.साईंस अकेडमी आॅनलाईन एप का विधिवत् उद्घाटन कर 2000 से अधिक विद्यार्थियों का रजिस्ट्रेशन कर आॅनलाईन स्टडी की शुरूआत इस ऐप द्वारा की गई।

ऑनलाइन मिलेगी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा

कोरोना महामारी के दौरान आॅनलाइन शिक्षा में पूर्वी राजस्थान के सर्वाधिक प्रतिष्ठित संस्थान डी.एस.साईंस अकेडमी गंगापुर सिटी ने विगत दिनों माइक्रोसाॅफ्ट से अनुबन्ध के तहत वेव द्वारा आॅनलाईन शिक्षा की शुरूआत की थी। विद्यार्थियों की शिक्षा में गुणवत्ता को बढ़ाने के दृष्टिकोण से अब स्वयं संस्था का ऐप लाॅन्च किया है। जिसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है या मोबाईल नं0 7737320856 पर काॅल करके भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इस ऐप के माध्यम से आप अपनी कक्षा 6 से 12 तक दोनों माध्यमों फाउंडेशन या स्टेट बोर्ड की तैयारी हेतु नया रजिस्ट्रेशन कर अपनी गुणवत्ता शिक्षण को प्रारंभ कर सकते हैं।

ऑफलाइन क्लासरुम से कई मायनों में बेहतर

प्रधानाचार्य अशोक शर्मा ने बताया कि संस्था द्वारा इस ऐप के माध्यम से प्रत्येक कक्षाओं की पढ़ाई गुणवत्ता को सर्वश्रेष्ठ रखा गया है जो आॅफलाइन क्लास रूम से कई मायनों में बेहतर है व इंडिया की प्रसिद्ध शिक्षण संस्थाओं के द्वारा दी जा रही आॅनलाइन स्टडी के समकक्ष व टाइम मेनेजमेन्ट में उनसे भी बेहतर है। अकेडमिक हैड आईआईटियन आशुतोष वर्मा ने बताया कि इस ऐप के द्वारा आॅनलाइन शिक्षा प्रदान करने वाली टीम का राष्ट्रीय स्तर के अनुरूप से है जिनमें अधिकांश आईआईटियन्स हैं व वर्मा सर ने आगे बताया कि यह उनके 15 वर्ष के अनुभवों में सर्वश्रेष्ठ टीम है। महामारी के द्वारा उत्पन्न लाॅकडाउन की स्थिति को ध्यान में रखते हुए आॅनलाइन स्टडी के व्यवस्थापन के भारी खर्च व चुनौतियों के बावजूद निदेशक इंजी. उमेश शर्मा ने आॅनलाइन शिक्षा को 15 जून 2020 तक फ्री देने के निर्देश दिये। ताकि राज्य व देश के सभी वर्गों के विद्यार्थी को इस स्थिति में क्वालिटी एजूकेशन से कोई वंचित न रहे।

विद्यार्थियों की ऑनलाइन मॉनिटरिंग

इस ऐप के माध्यम से रेग्यूलर विडियो लेक्चर्स, एसाइनमेन्ट, डेली प्रेक्टिस सीट, व डाउट डिस्कशन आॅनलाईन एग्जाम आदि को संस्था द्वारा बनाये अकेडमिक कलेन्डर के अनुरूप विधिवत् चलाया जा रहा है व विद्यार्थियों की आॅनलाईन मोनिटरिंग की जा रही है। संस्था द्वारा कराये गये सर्वे में एक बालक औसतन 10 घंटे आॅनलाइन स्टडी कर रहा है। सभी कक्षाओं के नये बेच दिनांक 15 मई से प्रारंभ होगें। अपनी सीट सुनिश्चित करने के लिए तुरन्त ऐप द्वारा रजिस्ट्रेशन करें या काॅल करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।