विधायक ने प्रवासी मजदूरों को वितरित की खाद्य सामग्री।
May 11th, 2020 | Post by :- | 58 Views

अंबाला , मुलाना ( गुरप्रीत मुल्तानी )

लॉकडाउन के चलते मजदूरों का रोजगार छिन गया हैं ऐसे में यह लोग अपने अपने घरों की ओर रुख कर रहे हैं। मजदूर पैदल ही अपने घरों की ओर जा रहे हैं। उनके पास खाने पीने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है।ऐसे में हल्का मुलाना विधायक वरुण चौधरी ने पैदल घर जा रहे प्रवासी मजदूरों को बिस्किट व गुलूकोस-डी के हजारों पैकेट वितरित किये।उन्होंने कहा कि आज इस लोकडाउन की वजह से सैकड़ों छोटे-छोटे बच्चे हजारों किलोमीटर अपने घर पैदल भूख से सफर कर रहे हैं उनके पास ना तो खाने की कोई व्यवस्था है ना ही रात को कहीं ठहरने की व्यवस्था है और सरकार की तरफ से भी इनकी कोई मदद नहीं की जा रही है उन्होंने कहा कि यह गरीब मजदूर भी हमारे देश के ही नागरिक है तो सरकार इनकी इस दुख की तरफ क्यों कोई ध्यान नहीं दे रही है ।

एक तो लोक डाउन की वजह से इन मजदूरों का काम नहीं मिल रहा है जिसको कर ये अपना पेट पाल सकें और ना ही सरकार की तरफ से कोई सहायता इनको खाने के लिए न रहने के लिए और ना ही घर जाने की इनको मिल रही है और जब यह मजदूर पैदल अपने घर जाते हैं तो इनको रोका जाता है जो गलत है सरकार कहती है कि प्रवासी मजदूर ऑनलाइन अपना डाटा भर अपनी टिकट ऑनलाइन बुक कर सकता है पर क्या सभी मजदूर बड़ी कंपनियों में काम करते हैं कुछ मजदूर तो खेतों में अन्य जगह पर काम करते हैं बहुत से तो अनपढ़ हैं ऐसे में प्रवासी मजदूर न अपना डाटा ऑनलाइन कर सकते हैं और ना ही ऑनलाइन टिकट की बुकिग। और जिस मजदूर ने रेलवे स्टेशन पर टिकट बुक करा ली और उसकी ट्रेन दो दिन बाद आती है तो वह मजदूर दो दिन कहा ठहरे कहा खाए इसके लिए भी कोई इंतजाम सरकार द्वारा मजदूरों के लिए नही किये गए हैं ऐसे में सरकार को चाहिए कि मजदूरों को किसी अन्य परेशानी में न डाल कर जल्द से जल्द उनके घर छोड़ने का प्रबंध करना चाहिए

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।