कोंडागॉव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भटकते रहे बाहर से आये मजदूर घंटो बाद हुआ स्वास्थ्य परीक्षण
May 10th, 2020 | Post by :- | 217 Views

कोंडागांव – वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते पूरे देश मे लॉक डाउन किया गया है। जिससे सभी रोजगार के काम ठप्प हो गए है, और दूसरे राज्यों में अपनी जीवकोपार्जन के लिए गए, मजदूरों को बाहरी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, और राज्य सरकार व जिला प्रशासन भी दूसरे राज्यो में फंसे मजदूरों को वापिस लाने का भरसक प्रयास कर रही है, इसी कड़ी में हैदराबाद से कोंडागांव के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुँचे मजदूरों को घंटों डॉक्टर्स और पानी का इंतज़ार करना पड़ा सीएमएचओ कोंडागांव ने स्वयं स्वास्थ्य केंद्र आकर पानी और साबुन की व्यवस्था की।

जानकारी अनुसार कोंडागांव जिले से दूसरे राज्यों में रोजगार करने गए, मजदूरों में से हर दिन कोई ना कोई मजदूर वापिस आ रहे है, इसी कड़ी में 09 मई को 06 मजदूर हैदराबाद से वापिस आये, जिनका रैपीट किट से कोरोना परीक्षण कर स्थानीय क्वारन्टीन स्थल में रखा गया, 10 मई को सुबह 07 बजे कर्नाटक से पहुँचे 5 मजदूरों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोंडागांव में भटकते देखा गया, मौके पर ना कोई डॉक्टर दिखे और ना ही पानी और साबुन की व्यवस्था दिखी, इस तरह की लापरवाही से अप्रिय घटना कभी भी घट सकती है, हालांकि पीएचसी में डॉ आरके सिंह नोडल अधिकारी है। उनको अस्पताल में हेंडवास और पीने के लिए पानी आदि की व्यवस्था करनी चाहिए।

मीडियाकर्मियों को पता चलने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुँचकर जब कर्नाटक से आये मजदूरों से पूंछा गयतो उन्होंने बताया कि हम लोग सुबह 07 बजे से यहां आए हुए है, और अभी 11 बजे तक यहां डॉक्टर नही आये है, और हमको साबुन या हेंडवास भी नही मिला जिससे हम हाथ धो सके, और पानी पीने के लिए भी नही मिला जिससे हम सिर्फ पानी पीने ही इधर उधर हुए है, बांकी यही पर बैठे हुए है। मीडियाकर्मियों द्वारा जब डॉ आर के सिंह को फोन लगया गया तो उनका फोन स्वीच ऑफ आया, तब सीएमएचओ को फोन किया गया, उन्होंने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आकर हेंडवास की व्यवस्था की एवं सभी मजदूरों का रैपीट किट से कोरोना टेस्ट व स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।

बाहर से आने वालों की स्वास्थ्य परीक्षण करना बीएमओ की जबावदारी होती है – सीएमएचओ

सी एम एच ओ कोंडागांव नेबताया कि यहाँ बाहर से जोभी मजदूर आते है, व्यवस्था बीएमओ डॉ आर के सिंह की होती है, वह नही आये है, हालांकि आरएमओ व आयुर्वेदिक चिकित्सक द्वारा व्यवस्था कर दी गयी है, और अब अव्यवस्था नही होगी, दूसरा सवाल की बीती रात भी 10 बजे तक सीएमएचओ पीएचसी आकर मजदूरों का परीक्षण करवाते रहे और आज भी स्वयं आकर व्यवस्था की गई, तो इस उन्होंने बताया कि नोडल अधिकारी डॉ आर के सिंह को समझाया जाएगा। और अब आगे से किसी को भी कोई परेशानी नही होगी, नगरपालिका को भी बोल कर अस्पताल को समय समय पर सेनेटाइज करवाया जाता है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।