हिसार में जरूरी वस्तुओं की दुकानों को खोलने के लिए समय की पाबंदी नहीं : उपायुक्त
May 10th, 2020 | Post by :- | 63 Views

हिसार (लवकेश कथूरिया )उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने बताया कि आवश्यक वस्तुओं की शॉप्स यानि मेडिकल स्टोर, सब्जी, फल और दूध सहित जरूरी वस्तुओं की दुकानों के खुलने पर समय की कोई पाबंदी नहीं है और ये दुकानें लॉकडाउन से पूर्व के सामान्य दिनों की भांति खुली रह सकती हैं। इनके लिए सुबह आठ बजे से शाम छह बजे का समय निर्धारित नहीं है। इसलिए भ्रमित होने की जरूरत नहीं है।

उपायुक्त ने बताया कि रेस्टोरेंट, भोजन या अन्य खानपान की दुकानें होम डिलीवरी कर सकती हैं। ऐसे प्रतिष्ठान जोमैटो या अपने स्वयं के संसाधनों के माध्यम से होम डिलीवरी कर सकते हैं। डिलीवरी ब्वॉय को मास्क, ग्लब्स पहनने होंगे और  डिलीवरी के वक्त पैकेट आदि को बाहर से सेनेटाइज करने जैसी सावधानियां बरतनी होंगी। उन्होंने कहा कि सभी दुकानों को पहले से जारी निर्देशों के अनुसार सभी सावधानियां बरतनी होंगी। दिशा-निर्देशों की अनुपालना ना करने वाले दुकानदारों पर कार्रवाई की जाएगी।

रविवार को करियाना, डेयरी की दुकानों को छोड़कर अन्य दुकानें बंद रहेंगी। दुकान खोलने के लिए सुबह 8 बजे से लेकर सायं 6 बजे तक का समय तय किया गया है। यानि गृह मंत्रालय के आदेश से ठीक एक घंटा पहले ही दुकान बंद कर दी जाएंगी। ऐसे में लोगों को इन दुकानों पर जरूरत का सामान मिल सकेगा। यह प्रावधान अब हर रविवार को प्रशासन द्वारा किया गया है। गौरतलब है कि पूर्व में भी रविवार को शहर में अधिकांश मार्केट बंद रहती थी। मगर फिर भी कई दुकानें खोल ली जाती रही हैं।

इन दुकानों को खोलने पर भी गृह मंत्रालय के द्वारा जारी किये गए निर्देशों का पालन करना होगा। लोग जरूरत पडऩे पर ही घरों से बाहर निकलें। इसके साथ ही अगर घर से बाहर निकल भी रहे हैं मास्क का प्रयोग करें। ऐसे में इन नियमों को पालन हो इसके लिए प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों की निगरानी में यह कार्य किया जाएगा। अधिकारी दुकानों का निरीक्षण भी कर सकते हैं। खास बात है कि इन नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।