लगता है लाकडाउन अब सिर्फ सरकारी गाड़ियों में लगे माइको के एनाउंसमेंट तक ही रह गया है सिमटकर। व्यबस्था में लगे पुलिस ब प्रशासनिक अधिकारी भी लगता है गए है थक
May 10th, 2020 | Post by :- | 46 Views

संवाददाता शौकत अली

भरतपुर। लगता है राजस्थान के भरतपुर में कोरोनां की जंग लड़ते लड़ते लगभग ठप्प सी हो गई है व्यबस्था। मायूस से हो गए है व्यबस्था में लगे लोग। चेहरों पर थकान और बेबसी नजर आने लगी है साफ। सड़को पर दिख रही मुस्तेदी गायब हो गई है अचानक बीच मे ही। शहर में अचानक ही लगने लगा है ऐसा जैसे अब नही रही यहां लाकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की कोई जरूरत। मुख्य बाजार को छोड़ शहर के अन्य बाजारों में बिना किसी डर के खुलने लगी है गैरजरूरी सामानों की दुकाने। शहर के मुख्य बाजार में भी ऐसी कई दुकानों को देखा जा सकता है आंख मिचौली करते। लगता है लाकडाउन अब सिर्फ सरकारी गाड़ियों में लगे माइको के एनाउंसमेंट तक ही रह गया है सिमटकर। व्यबस्था में लगे पुलिस ब प्रशासनिक अधिकारी भी लगता है गए है थक। बाजारों में भीड़ की रेलमपेल ऐसी की कई जगह तो जाम भी होने लगा है ट्रैफिक। इस पूरी व्यबस्था में अगर नजर आ रहा है कोई मुस्तेद तो बो है ट्रैफिक पुलिस जिसने बहाना कोई भी हो वाहनों के चालान काटने में नही दिखाई है कोई सुस्ती।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।