हफेड गोदाम से उठने वाले प्रदूषण से कालोनीवासी परेशान, लोगों ने गोदाम को अन्य स्थान पर स्थापित कर वहां पार्क बनाने की रखी मांग 
May 10th, 2020 | Post by :- | 100 Views
होडल,  (मधुसूदन भारद्वाज ): रेलवे रोड स्थित हैफैड के गोदाम से उडने वाली धूल मिटटी और सडक मार्ग पर चलने वाले वाहनों से बढते प्रदूषण से परेशान कालोनीवासियों ने मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम अमरजीत सिह को ज्ञापन सौंपा है। कालोनीवासियों ने ज्ञापन के माध्यम से उक्त गोदाम को किसी अन्य स्थान पर स्थापित कर यहां पार्क बनाए जाने की मांग की है। कालोनी निवासी उदयभान पंखीया, अधिवक्ता ध्रमेंद्र सिंह,बिजेंद्र ङ्क्षसह, संजय कुमार,राजेश कुमार, गोविंद ङ्क्षसह, जयप्रकाश, दलीप, धर्मबीर बिंदल, शिवकुमार मित्तल, दलबीर, हरीओम, अशोक कुमार, मुकेश कुमार, वासुदेव, हरीनारायण, सुरेशचंद सहित सैंकडों लोगों ने सौंपे गए ज्ञापन में बताया कि लगभग 50 वर्ष पहले रेलवे रोड पर हैफेड का गोदाम बनाया गया था। जिसमें सरकार द्वारा गेहूं के अलावा खाद,बीज आदि का स्टाक रखा जाता है। जिस समय गोदाम का निर्माण हुआ था, उस समय आसपास के क्षेत्र में कृर्षि कार्य किया जाता था,लेकिन आज उक्त गोदाम के आसपास कई कालोनियां विकसित हो चुकी हैं, जिनमें हजारों की संख्या में लोग अपना जीवन यापन कर रहे हैं। ज्ञापन में बताया कि स्टेशन तक हजारों लोगों का रोजाना आवागमन होता है। कई बार गोदाम तक गेहूं,खाद व अन्य सामान पहुंचाने के लिए सैंकडों ट्रकों की लम्बी लाईन लग जाती है। जिसके कारण यहां से निकलने वाले अन्य वाहन और यात्री जाम में फंस जाते हैं। कई बार वाहन चालक कालोनीवासियों के साथ झगडा करने पर उतारू हो जाते हैं। लोगों ने बताया कि गोदाम में भारी संख्या में वाहनों के प्रवेश के बाद यहां से उडने वाली धूम मिटटी और प्रदूषण से कालोनी वासियों को भारी परेशानियों का सामना करना पडता है। यहां बढते प्रदूषण के कारण दमा,खांसी व अन्य रोगों से पीडितों को अन्य स्थानों पर रहने को विवश होना पडता है। ज्ञापन में बताया कि गोदाम में भरे अनाज के कारण आसपास की कालोनियों में बंदरों के अलावा चूहे,मच्छर व जहरीले जानवरों का आतंक बना रहता है। जिसके कारण आए दिन कोई ना कोई महिला,पुरुष,बुजुर्ग या बच्चे घायल होते रहते हैं। लोगों ने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री के समक्ष मांग रखी है कि हैफेड के गोदाम को किसी अन्य स्थान पर स्थापित करके यहां भव्य पार्क का निर्माण कराया जाए ताकि आसपास का कालोनियों में रहने वाले लोगों को राहत मिल सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।