हरियाणा पुलिस, एनआईए व पंजाब पुलिस के संयुक्त ऑप्रेशन में दो मोस्ट वांटेड व मददगार सहित तीन काबू आतंकी संगठनों को आर्थिक मदद करने की बात आई सामने
May 9th, 2020 | Post by :- | 134 Views

चंडीगढ, ( महिन्द्र पाल सिंहमार )    ।   हरियाणा पुलिस, एनआईए व पंजाब पुलिस के संयुक्त ऑप्रेशन में पुलिस ने पंजाब के दो मोस्ट वांटेड व उनके एक मददगार सहित तीन लोगों को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है ।

इस संबंध में जानकारी देते हुए उप पुलिस महानिरीक्षक एंव सिरसा के पुलिस अधीक्षक डॉ अरुण  सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान मोस्ट वांटेड  रणजीत सिंह उर्फ चीता व उसका भाई गगनदीप उर्फ गगन  निवासी  पंजाब व मददगार जिला सिरसा के गांव बेगू निवासी गुरमीत सिंह के रुप में हुई है ।

उन्होने बताया कि सिरसा पुलिस, एनआईए व पंजाब पुलिस की संयुक्त टीम ने वर्ष 2019 में सदर अमृतसर थाने में दर्ज एनडीपीएस मामलें में करोड़ो रुपए की 532 किलोग्राम हेरोइन बरामदगी व आतंकी संगठनों को आर्थिक मदद देने के मामलों में दो मोस्ट वांटेड व मददगार को गिरफ्तार किया है ।  रणजीत सिंह उर्फ चीता व उसका भाई गगनदीप उर्फ गगन एनआईए व पंजाब पुलिस को सदर अमृतसर थाना में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत दर्ज अभियोग संख्या 18 व आतंकी संगठनों को मदद करने के मामले में दर्ज अभियोग संख्या 135 में मोस्ट वांटेड थे ।

इस संयुक्त आप्रेशन में सिरसा पुलिस का सहरानीय योगदान रहा । रणजीत सिहं उर्फ चीता व उसके भाई गगनदीप उर्फ गगन को एनआईए व  पंजाब पुलिस के हवाले कर दिया है जबकि मददगार गांव वैदवाला निवासी गुरमीत को सिरसा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है । उसे अदालत में पेश कर रिमाण्ड हासिल किया जाएगा और रिमाण्ड अवधि के दौरान उस से विस्तार से पूछताछ की जाएगी ।

डॉ अरूण सिंह ने बताया कि रणजीत सिंह उर्फ चीता और उसके भाई गगन के आतंकी संगठनों को आर्थिक मदद करने व आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन से भी संपर्क होने की बात भी सामने आई है जिसकी गहनता से जांच की जा रही है । उन्होंने बताया कि दोनों मोस्ट वांटेड रणजीत व गगन के खिलाफ पंजाब में विभिन्न अपराधिक धाराओं के तहत दस अपराधिक मामले भी दर्ज हैं ।

गांव वैदवाला निवासी गुरमीत सिंह के कब्जा से एक किलो 200 ग्राम चूरा पोस्त भी बरामद हुआ है । गुरमीत सिंह मोस्ट वांटेड गगन का रिश्ते में सांढू है और उसी ने अपनी आईडी से रणजीत व गगन को गांव बेगू में मकान दिलवाया था । उन्होंने बताया कि गुरमीत सिंह के खिलाफ सदर सिरसा थाना में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज किया गया है । गुरमीत सिंह से विस्तार से पूछताछ की जाएगी और जो भी इस मामले में संलिप्त पाया गया उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी । पुलिस अधीक्षक सिरसा ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है और पूछताछ के दौरान अनेक अपराधिक वारदातों के बारे में महत्तवपूर्ण खुलासे होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।