जानिए जिला बाल संरक्षण अधिकारियों द्वारा किन-किन संस्थाओं का किया गया निरीक्षण।
May 7th, 2020 | Post by :- | 55 Views

करनाल, हरियाणा (रजत शर्मा)। जिला बाल संरक्षण अधिकारी रीना फोगाट व काऊंसलर डा0 पूनम शर्मा द्वारा प्लेस ऑफ सेफ्टी, हरियाणा राज्य बाल भवन मधुबन तथा निर्मल धाम संस्था का निरीक्षण किया गया। अधीक्षक प्लेस ऑफ सेफ्टी कृष्ण मान द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि प्लेस ऑफ सेफ्टी में जघन्य अपराध की श्रेणी के 106 किशोर रह रहे है।

इन किशोरों को अनुशासन में रखना एक चुनौती भरा कार्य है क्योंकि ये किशोर संस्था में भी आपस में लडाई करते रहते है। इन किशोरों को अनुशासन में रखने के लिए मानसिक व शारीरिक रूप से व्यस्त रखना जरूरी है। इसके साथ-साथ समय-समय पर इनकी काऊंसलिंग की भी आवश्यकता रहती है, जोकि संस्था के काऊंसलर द्वारा की जाती है तथा समय-समय पर विभाग के द्वारा भी काऊंसलिंग करवाई जाती है।

उन्होंने बताया कि वैश्विक माहमारी कोविड-19 के चलते जिला बाल संरक्षण कार्यालय द्वारा साप्ताहिक तौर पर संस्था का दौरा किया जा रहा है तथा सभी बच्चों की काऊंसलिंग की जा रही है तथा मोटिवेटिंव बाते बताई जाती है। जिसके कारण बच्चों पर पोजिटिव प्रभाव देखने को मिल रहा है।

अधीक्षक द्वारा विभाग के अधिकारियों से अनुरोध किया गया कि इन बच्चों को शारीरिक व मानसिक रूप से व्यस्त रखने के लिए संस्था में इनडोर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित करवाने के लिए अनुरोध किया गया है। वर्तमान में बच्चों को व्यस्त रखने के लिए प्रतिदिन योगा, पीटी, प्रार्थना, वॉलीबाल, लूडो, कैरम इत्यादि क्रियाए करवाई जा रही है।

डीसीपीओ रीना फौगाट द्वारा संरस्था के इन कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि अगले सप्ताह निरीक्षण के दौरान बच्चों की कुछ खेल प्रतियोगिताएं जैसे नींबू रेस, एक पांव रेस इत्यादि आयोजित करवाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।