पच्चीस हजार के इनामी बदमाश सहित पांच बदमाश गिरफ्तार,  पुलिस ने अदालत में पेश कर जेल भेजा|
May 7th, 2020 | Post by :- | 179 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :- होडल अपराध जांच शाखा पुलिस ने यूपी में 25 हजार के इनामी बदमाश सहित पांच लोगों को लूटपाट की योजना बनाते हुए गिरफ्तार किया है। पकड़े गए बदमाशों में एक बदमाश हत्या के मामले में भी लिप्त बताया जा रहा है। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों के पास से देशी कट्टा, कारतूस व तीन लोहे की रॉड भी बरामद की है। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों को शुक्रवार को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया है।

होडल डीएसपी विवेक चौधरी ने जानकारी में बताया कि देर रात उन्हें सूचना मिली कि नेशनल हाइवे बावरी मोड के निकट एक पुराने खंडहर में कुछ लोग आने-जाने वालों को लूटने की योजना बना रहे हैं। सूचना मिलते ही सीआइए इंचार्ज नरेंद्र खटाना टीम सहित मौके पर पहुंच गए और उन्होंने घेराबंदी कर पांचों बदमाशों को मौके पर ही काबू कर लिया। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों के पास से एक देशी कट्टा, कारतूस, तीन लोहे की रॉड व एक टॉर्च बरामद की। पकड़े गए बदमाशों ने अपने नाम थाना शेरगढ़ जिला मथुरा यूपी निवासी सागर उर्फ रावण, हथीन निवासी संजय, पलवल निवासी कृष्ण, लोकेश व रंजन बताए।

डीएसपी विवेक चौधरी ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों से जब पूछताछ की तो उन्हें पता चला कि पकडे गए बदमाश सागर उर्फ रावण पर यूपी पुलिस ने पच्चीस हजार रुपये का इनाम भी रखा हुआ है। उन्होंने बताया कि बदमाश सागर लूटपाट व हत्या के प्रयास की लगभग आधा दर्जन वारदातों में लिप्त है।

उन्होंने बताया कि पूछताछ में सागर ने सन् 2020 में कैंप थाना के अंतर्गत 34 हजार रुपये की लूट, शराब के ठेके में से चोरी, गदपुरी में ट्रक चालक से मारपीट कर पांच हजार की नगदी, मोबाइल फोन व वाहन के कागजातों की लूट, वृन्दावन मथुरा में व्यापारी को चाकू मारकर पचास हजार रुपये की नगदी के बैग की लूट के अलावा मथुरा यूपी निवासी सोनू को गोली मारने की वारदातों का खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि सोनू को गोली मारने की मामले में ही यूपी पुलिस ने सागर पर पच्चीस हजार रुपये के इनाम की घोषणा की हुई है। डीएसपी ने बताया कि पकड़े गए इन बदमाशों में से संजय पलवल कैंप के अंतर्गत एक हत्या के मामले में लिप्त है। विवेक चौधरी ने बताया कि पकड़े गए सभी बदमाशों को अदालत में पेश करके जेल में भेज दिया है।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।