राष्ट्रीय राजमार्ग से कोई साईकिल पर सवार होकर जा रहा है बिहार तो कोई पैदल चल कर तय कर रहा है सफर
May 7th, 2020 | Post by :- | 71 Views
  • होडल, (मधुसूदन): गुडगांव,दिल्ली,फरीदाबाद व अन्य जगहों से अपने गांव पहुंचने वाले प्रवासी महिला पुरुषों की भीड दिन रात राष्ट्रीय राजमार्ग से गुजर रही है। कोई महिला अपने बच्चों को गोदी में लेकर और साथ ही अपने सिर पर जरूरी सामान का बैग आदि लेकर जा रही है तो पुरुष छोटे छोटे बच्चों को अपने कंघों पर बैठाकर पैदल चलते हुए हजारों किलोमीटर का सफर तय दिखाई दे रहे हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग पर पिछले तीन दिनों से तो रोजाना हजारों की संख्या में महिला,पुरुषों की भीड जाती दिखाई दे रही है। दिन के समय तो धूप से बचाव करते हुए प्रवासी महिला पुरुष पेडों की छांव या अन्य जगहों पर बैठ जाते हैं लेकिन सांय होते ही उनका चलना शुरु हो जाता है। कम्पनी फैक्ट्री आदि मेंं मजदूरी करने वाले सैंकडों युवक तो अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए अपनी साईकिलों पर ही निकल पडे। उक्त युवकों से जब उनके जाने का कारण पूछा तो बताया कि कोराना वायरस के चलते अब कुछ पता नहीं कि आखिर कब तक फैक्ट्ररी शुरु होंगी, लेकिन तव तक उनके सामने तो रोजी रोटी की समस्या पैदा हो गई है। उन्होंने बताया कि वह बिहार के रहने वाले हैं और साईकिलों के माध्यम से ही बिहार तक अपना सफर तय करेंगे। हालांकि होडल स्थित हसनपुर चौक व अन्य कई स्थानों पर सामाजिक संगठनों द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई है। यहां दर्जनों कार्यकर्ता राष्ट्रीय राजमार्ग से जाने वाले असहाय और जरूरतमंदों को दोनों समय भोजन उपलब्घ करा रहे हैं। यहां तैनात कार्यकर्ता राष्ट्रीय राजमार्ग से पैदल व वाहनों में सवार होकर जाने वाले प्रवासियों को रोककर उन्हें भोजन,पानी की बोतलें व अन्य राहत सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं। उक्त स्थान पर भोजन देने के लिए बुलाई गई कई महिलाओं ने बताया कि वह पिछले कई दिनों से पैदल चल रही हैं और पिछले तीन दिनों से उन्हें खाने के लिए कुछ भी नहीं मिला है। उनके छोटे छोट बच्चे भी उनके साथ हैं। यहां भोजन मिलने पर उन्होंने राहत महसूस की है। कई दिनों से पैदल चलते हुए कुछ महिलाओं और पुरुषों ने तो अपने पैरों में पडे छालों को दिखाते हुए कहा कि वह अपने गांव में ही कोई मेहनत मजदूरी कर बच्चों को पाल लेंगे।
  • राष्ट्रीय राजमार्ग पर पैदल चलने वाले प्रवासियों के लिए बीती देर सांय विधायक जगदीश नायर ने वाहन उपलब्ध कराए और साईकिलों व पैदल जाने वाले सैंकडों महिला पुरुषों को राहत समग्री देकर उन्हें रवाना किया। उन्होंनें बताया कि संकट की इस घडी में शहर के सामाजिक संगठन दिन रात जरूरतमंदों को भोजन व राहत सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं। उन्होंने अन्य संगठनों से भी गरीवों की सहायता करने को कहा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।