जिला पलवल में बाजार खोलने पर ऑड-इवन फार्मूला लागू, पहले दिन इवन नंबर की खुलेंगी दुकानें : डीसी
May 5th, 2020 | Post by :- | 72 Views

होडल, ( मधुसूदन भारद्वाज),जिला उपायुक्त नरेश नरवाल नेकहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचाव के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन-3 के दौरान जिला के बाजारों में दुकानें विषम-सम (ऑड-इवन) नंबर्स के आधार पर खोली जाएंगी। कैलेंडर में तारीख के अंतिम अंक के आधार पर ऑड-इवन का निर्धारण होगा। उन्होंने यह बात मंगलवार की सांय जिला सचिवालय स्थित सभागार में अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कही। पुलिस अधीक्षक दीपक गहलावत व अतिरिक्त उपायुक्त वत्सल वशिष्ठ सहित बैठक में सभी उपमंडल अधिकारी (ना.), ड्यूटी मजिस्ट्रेट्स व सुपरवाइजरी आफिसर्ज मौजूद रहें।

उपायुक्त श्री नरवाल ने लॉकडाउन-3 के पहले दो दिनों में खोले गए बाजारों में सोशल डिस्टेंस की पालना व जिलावासियों के स्वास्थ्य के लिए अन्य आवश्यक उपायों के बारे में संबंधित अधिकारियों से फीडबैक लिया। जिला के पलवल-होडल-हथीन के उपमंडल अधिकारियों ने सोमवार व मंगलवार को बाजारों के अनुभव व अलग-अलग मार्केट एसोसिएशन, व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों व सामान्य जन से आए सुझावों की जानकारी उपायुक्त को दी। उपायुक्त ने सुझाव सुनने के उपरांत अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि बुधवार को पलवल, होडल व हथीन शहरों की दुकानें ऑड-इवन फार्मूला के आधार पर खुलेंगी। इस कार्य के लिए शहर की सभी दुकानों को एक साथ नंबर देने की बजाए मार्केट वाइज दुकानों को नंबर दिए जाए ताकि जिलावासियों को अपने रोजमर्रा के कार्यों को लेकर किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।
नरेश नरवाल ने कहा कि पलवल जिला में भले ही अब तक कोविड-19 महामारी के कम्यूनिटी संक्रमण के मामले न आए हो लेकिन अन्य जिलों में जिस तेजी से इस बीमारी का ग्राफ बढ़ा है उसे देखते हुए जिला प्रशासन को आवश्यक कदम उठाने पड़ेंगे। जिसके चलते नगर परिषद व पालिका के अधिकारी आज रात को ही सभी दुकानों पर नंबर अंकित कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि दुकानदार भी इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि दुकान पर उस व्यक्ति को सामान न दे जिसने मास्क न लगाया हो। साथ ही दुकान पर हैंड सेनेटाइजर, साबुन रखने के साथ-साथ आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने के बारे में लोगों को जागरूक करेंगे। उन्होंने कहा कि इस नियम के बावजूद भी अगर कहीं भीड़-भाड़ या अन्य गैरजरूरी कार्य मिले तो उस प्रतिष्ठान्न को बंद करा दिया जाएगा।
उन्होंने बैठक के दौरान यह भी निर्देश दिए कि जिला में बाहर से आने वाले लोगों पर भी निगरानी रखी जाए। साथ ही जिलावासियों से भी अपील करते हुए कहा कि यह निर्णय आपके स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए जरूरी है। अत: आप सब भी इस कार्य में जिला प्रशासन का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि घर से बाहर निकलते समय मास्क का अवश्य प्रयोग करें ताकि हम खुद भी और दूसरों को भी सुरक्षित रख सकें। उन्होंने ई-दिशा पोर्टल पर जिला के भीतर व बाहर जाने वाले लोगों के पंजीकरण की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। जिला में बाहर से आने वाले लोगों की अनिवार्य मेडिकल जांच भी की जाएगी। सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट अगले दो दिनों तक इस कार्य की मॉनीटरिंग करेंगे।
इस अवसर पर एसडीएम होडल अमरदीप सिंह, सीटीएम जितेंद्र कुमार, एसडीएम पलवल कंवर सिंह, एसडीएम हथीन वकील अहमद, शुगर मिल के एमडी डा. नरेश कुमार, कंट्रोल रूम की प्रभारी अंकिता अधिकारी, जिला राजस्व अधिकारी नरेश कुमार जोवल, डीईटीसी स्नेहलता यादव, सैनिक एवं अद्र्घसैनिक कल्याण विभाग के सचिव केके यादव, जिला सूचना प्रौद्योगिकी अधिकारी डीपी कुलश्रेष्ठ सहित सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट व सुपरवाइजरी अधिकारी मौजूद रहें।

 

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।