दुकानदार उसी ग्राहक को देंगें सामान,जिस ने पहना होगा मास्क।
May 5th, 2020 | Post by :- | 39 Views

करनाल, हरियाणा (रजत शर्मा)। उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने मंगलवार को स्थानीय लघु सचिवालय के सभागार में हरियाणा व्यापार मंडल की करनाल ईकाई की एक बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि लॉक डाउन थ्री में दुकानों को खोलने की प्रात: 8 बजे से लेकर दोपहर 2 बजे तक अनुमति दी गई है।

उन्होंने कहा कि इस दौरान आप सब भी दुकानदारों को जागरूक करें कि वह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे तथा दुकान के बाहर किसी भी तरह का अतिक्रमण ना करें।उन्होंने कहा कि कर्ण गेट में भीड़ ना हो, इसे देखते हुए ऑड-इवन नम्बर के तहत दुकाने खोलने की अनुमति दी गई है।

उपायुक्त ने कहा कि करनाल के मुख्य बाजारों की मार्किटों में भी ऑड-इवन नम्बर लागू किया जा रहा है। इसके लिए आप दुकानदारों को जागरूक करें कि वह नियमों के तहत अपनी दुकाने खोले। उन्होंने कहा कि सभी दुकानदारों को अपनी दुकानों को सेनेटाईज करवाना होगा तथा दुकान पर काम कर रहे हेल्पर को मास्क लगवाना सुनिश्चित करें।

दुकान में ज्यादा कर्मचारी नहीं होने चाहिए और अगर कोई कर्मचारी 65 वर्ष से ऊपर है तो उसे रेस्ट दिया जाए। डीसी ने यह भी कहा कि दुकानों के आस-पास पूरी साफ-सफाई होनी चाहिए, जो भी दुकानदार इन नियमों का उल्लंघन करेगा, उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने कहा कि आप सब यह सुनिश्चित करें कि दुकानदार उसी को सामान दें, जिस ने मास्क पहना हो। दुकानों पर किसी तरह की भीड़ नहीं होनी चाहिए, यदि किसी दुकान पर ज्यादा ग्राहक अचानक आ जाए तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और सामान बेचने के लालच में ना आए। दुकान समय पर खोले और समय पर बंंद करें।

शाम को 7 बजे से प्रात: 7 बजे तक किसी भी प्रकार के आवागमन की कोई छूट नहीं होगी। उन्होंने बताया कि प्रात: 8 बजे से लेकर दोपहर 2 बजे तक किसी भी व्यक्ति को पास लेने की जरूरत नहीं है।

इस अवसर पर हरियाणा व्यापार मंडल के प्रदेश प्रवक्ता किशोर नागपाल, करनाल व्यापार मंडल के चेयरमैन नरेन्द्र बाम्बा, बप्पन चौधरी, राकेश खन्ना, सुनील गुप्ता, कृष्ण लाल सचदेवा, कर्ण ग्रोवर सहित व्यापार मंडल में कईं पदाधिकारी मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।