गृहमंत्री विज बोले- जो छूट दी जा रही है, वह घातक हो सकती है, बतौर गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री मुझे डर लग रहा
May 3rd, 2020 | Post by :- | 63 Views

चंडीगढ, ( महिन्द्र पाल सिंहमार )  ।  हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने प्रदेश में ढील देने के फैसले पर सवाल खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा है कि मुझे इस फैसले से डर लग रहा है। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा की आज के दिन हरियाणा में 50 से अधिक संक्रमण के केस बढ़ गए हैं। ऐसे में सरकार सभी सेवाएं खोलने का फैसला कर रही है। मुख्यमंत्री ने जो निर्णय लिया है वह अंतिम है लेकिन बतौर गृह मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के तौर पर मुझे इस निर्णय से डर लग रहा है।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पत्रकारों से बातचीत में अनिल विज ने कहा है कि एक दम से ढील देना प्रदेश के लिए घातक साबित हो सकता है। एक तरफ तो हम दिल्ली का बार्डर सील कर रहे हैं। दूसरी तरफ प्रदेश में संक्रमण की संख्या अचानक बढ़ रही है। ऐसे में मुख्यमंत्री की ओर से यह घोषणा की गई है कि बाजार खुलेंगे। उन्होंने कहा सीएम साहब ने केंद्र सरकार से बातचीत के बाद ही यह निर्णय लिया होगा। मैं उनके निर्णय पर सवाल नहीं खड़ा कर रहा लेकिन मुझे अपने स्तर पर डर लग रहा है।

मैं अपनी भावना व्यक्त कर रहा हूं। जो छूट दी जा रही है, वह घातक हो सकती है। मुझे डर लग रहा है बतौर गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री मैं यह बात कह रहा हूं। दुकानें खोल रहे हैं, अच्छी बात है, लेकिन खोलने से मुझे डर लग रहा है।
उन्होंने कहा कि अभी तक हमने जब भी ढील दी है, यह देखा है कि लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की अवहेलना की है।

विज ने कहा कि इस तरह की घोषणा से पहले उनसे किसी ने कोई बात नही की है। यदि की होती तो मैं इसका विरोध जरूर करता। अभी इस तरह से ढील नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा जब बाजार खुल गए तो कौन किसको रोक सकता है। अभी तो हमारे सामने बार्डर पर की गई सख्ती का नतीजा आना बाकी है। अभी तक तो सख्ती से पहले की गई आवाजाही के नतीजे ही सामने आ रहे हैं। लगातार हमारे डॉक्टर और नर्सें संक्रमित हो रही हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।