मॉडिफाइड लॉकडाउन की पालना सुनिश्चित करने के जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश
May 3rd, 2020 | Post by :- | 100 Views

सवाई माधोपुर(सीताराम गर्ग)। जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने 4 मई से 17 मई तक चलने वाले मॉडिफाइड लॉकडाउन के लिए जिले में अनुमत और गैर अनुमत गतिविधियों की सूची जारी की है। मॉडिफाइड लॉकडाउन की पालना सुनिश्चित कराने के संबंध में संबंधित अधिकारियों को निर्देश भी दिए है।
जिला कलेक्टर पहाड़िया ने बताया कि सवाई माधोपुर जिला ऑरेंज जोन में है। रेल, बस संचालन, शैक्षणिक संस्थान, सिनेमा हॉल, मॉल, स्विमिंग पूल, पांच या पांच से अधिक लोगों के एकत्र होने, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनैतिक समारोह पर पहले की तरह प्रतिबंध बरकरार रहेगा। पूजा स्थल आमजन के लिए बन्द रहेंगे। शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक आमजन घर से बाहर नही निकलेंगे। गम्भीर बीमारी या इमरजेंसी में जिला प्रशासन या पुलिस पास प्राप्त कर घर से निकला जा सकेगा। 65 साल से ज्यादा व 10 साल से छोटे आयु के व्यक्ति, गर्भवती महिला, बीमार का चिकित्सा कारणों के अतिरिक्त दिन में भी घर से बाहर निकलना अनुमत नही है।
शादी में 50 व अंतिम संस्कार में 20 से अधिक व्यक्तियों की अनुमति नही होगी। अत्यावश्क स्थिति में प्रशासन या पुलिस से पास प्राप्त कर कार (चार पहिया वाहन) में चालक एवं अधिकतम दो व्यक्ति, ऑटो/ साइकिल रिक्शा में चालक व एक अन्य व्यक्ति बैठ सकते हैं। दुपहिया वाहन में एक व्यक्ति ही अनुमत होगा।
कलेक्टर पहाडिया ने बताया कि मॉडिफाइड लॉकडाउन में 4 मई से विŸाीय संस्थाओं, निजी कार्यालयों, मोबाईल रिचार्ज दुकाने, स्टेशनरी आदि की दुकाने खोलने की अनुमति होगी। दूध, किराना, सब्जी की दुकाने पहले की तरह खुली रहेंगी। ग्रामीण क्षेत्र में सभी प्रकार की औद्योगिक इकाईयां व शहरी क्षेत्र में अनुमत इकाईयां खुल सकेंगी। शराब की दुकाने खुलेंगी, लेकिन दुकान पर 5 से अधिक व्यक्ति इक्ठ्ठा नही होने दिये जायेंगे। सार्वजनिक स्थानों पर थूंकने पर प्रतिबंध रहेगा तथा जुर्माने से दंडनीय होगा। पान, गुटखा, तंबाकू आदि के विक्रय पर प्रतिबंध रहेगा। सार्वजनिक स्थान पर शराब का सेवन पूर्णतः वर्जित होगा।
सभी सार्वजनिक स्थानों पर चेहरे पर मास्क पहनना आवश्यक होगा। कोई भी व्यक्ति मास्क के बिना घर से निकला तो कानूनी कार्रवाही की जायेगी। दुकानदार स्वयं भी बिना मास्क पहने नहीं रहेंगे। दुकानदार के बिना मास्क पहने मिलने पर दुकान बंद करने व दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। बिना मास्क पहने व्यक्ति को कोई भी दुकानदार सामान/सेवा विक्रय नही करेगा। दुकान पर ग्राहकों के बीच आपस में 6 फीट दूरी का पालन किया जायेगा। सभी अनुमत कार्यालय, अनुमत दुकान शाम 6 बजे बन्द कर दिये जायेंगे। ताकि कार्मिक 7 बजे तक अपने घर पहुंच जायें। सभी कार्यालयों, दुकानों पर हैंडवाश का प्रबंध रखा जायेगा।
ग्रामीण क्षेत्र में सभी प्रकार की निर्माण गतिविधियां हो सकती है। शहरी क्षेत्र में निर्माण गतिविधियों के लिए निर्देशो की पालना के साथ अनुमत गतिविधियां की जा सकती है। सभी सरकारी कार्मिकों को आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना आवश्यक है। ये छूट कर्फ्यू ग्रस्त इलाके/कंटेनमेंट जोन में लागू नही होगी।
जिले में अब तक 2281 सैंपल लिए, 2151 का रिपोर्ट आई, 130 की रिपोर्ट आनी शेष
राहत की बात जिले में नहीं आया कोई नया कोरोना पॉजिटिव

जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण एवं प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन, पुलिस, चिकित्सा विभाग पूरी मुस्तैदी से जुटे है। आमजन की जागरूकता एवं लॉकडाउन की पालना में लोगों के मिल रहे सहयोग का ही परिणाम है कि जिले में कोई नया कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है।
कलेक्टर पहाडिया ने बताया कि अब तक जिले में 2281 सैंपल लिए गए है। जिनमें से 2151 सेंपलों की रिपोर्ट आ गई है। 130 सैंपलों की जांच प्रक्रियाधीन है। राहत की बात यह है कि जिले के आठ कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से पांच रिकवर हो गए है। जिसमें से एक को डिस्चार्ज भी कर दिया गया है।
सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना ने बताया कि जिले में अब तक लिए गए 2281 सैंपलों में से 1387 नए एवं 894 रिपीट सैंपल हैै। उन्होंने बताया कि जिले में घर घर सर्वे का कार्य लगातार जारी है। जिले में अब तक 25 हजार 296 लोगों को होम क्वारंटीन किया गया था। जिसमें से 19 हजार 956 लोगों को 14/28 दिन का क्वारंटीन अवधि पूरी हो गई है।

दूसरे स्थानों से आए प्रवासियों के संबंध में जानकारी दें ग्राम स्तरीय कोर कमेटियां
ऐसे लोगों को चिकित्सकीय परीक्षण/क्वारंटीन करवाया जाए
भारत सरकार के निर्देशानुसार अन्य राज्यों एवं अन्य जिलों में फंसे हुए प्रवासी/श्रमिक राजकीय वाहन/निजी वाहनों से जिले की सीमा के माध्यम से अपने गन्तव्य स्थानों पर पहुंच रहे हैं। फिर भी कई व्यक्ति चेकपोस्ट के अतिरिक्त अन्य रास्तों/पगडंडियों के माध्यम से जिले में प्रवेश कर रहे हैं। इससे इस संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है कि कई प्रवासी/श्रमिक बिना चिकित्सकीय परीक्षण करवाये ही इस जिले की सीमा में प्रवेश कर गये हों।
जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने ऐसी परिस्थिति को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों के लिए समस्त ग्राम पंचायत, ग्राम व बूथ स्तरीय तथा शहरी क्षेत्रों के लिए वार्ड व बूथ स्तरीय कोर कमेटियों को निर्देशित किया कि वे 20 अप्रैल 2020 के पश्चात अपने-अपने क्षेत्रों में अन्य राज्यों या अन्य जिलों से आने वाले प्रवासियों/श्रमिकों एवं अन्य लोगो को चिन्हित कर उनका चिकित्सकीय परीक्षण करवाने एवं परीक्षण पश्चात होम/संस्थागत क्वारंटाइन करवाया जाना सुनिश्चित करें। साथ ही आवश्यकता होने पर व कोरोना संक्रमण के लक्षण पाये जाने पर इसकी सूचना संबंधित इंसीडेंट कमाण्डर (उपखण्ड अधिकारी) जिला सवाई माधोपुर को देना सुनिश्चित करें। उपखण्ड अधिकारी यह भी सुनिश्चित करे कि वह अपने-अपने उपखण्ड क्षेत्र में लाउडस्पीकर के माध्यम से बाहर से आने वाले लोगो की सूचना देने के लिए आमजन को जागरूक करेंगे।
ऑनलाइन ई-पास के लिए सहायक कलेक्टर को नोडल अधिकारी नियुक्त
सवाई माधोपुर। प्रवासियों व श्रमिकों को जिले से अपने गंतव्य राज्य/जिले में जाने हेतु ई मित्रों के माध्यम से ऑनलाइन ई-पास स्वीकृति जारी करने की व्यवस्था के लिए सहायक कलेक्टर मुख्यालय सवाई माधोपुर को नोडल अधिकारी एवं संयुक्त निदेशक सूचना प्रोद्योगिकी एवं संचार विभाग को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।
कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने नोडल अधिकारी को ऑनलाइन ई-पास स्वीकृति जारी करने के संबंध में संबंधित उपखंड अधिकारी व जिला मुख्यालय पर स्थित वार-रूम (कोविड-19) से समन्वय स्थापित कर कार्य को किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।