लॉक डाउन में एक-दूसरे राज्यों में फंसे नागरिकों की घर वापसी की तैयारियां
May 3rd, 2020 | Post by :- | 201 Views

पानीपत 3 मई। लॉक डाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे नागरिकों की घर वापसी के लिए सरकार ने एक लिंक ईदिशाडॉटजीओवीडॉट इन/ईफॉम्र्स/माईग्रैंटसर्विस जारी किया है। इस पर क्लिक करके घर जाने के इच्छुक नागरिक को अपनी सूचना देनी होगी।

यह जानकारी देते हुए उपायुक्त हेमा शर्मा ने बताया कि दूसरे राज्यों के प्रवासी मजदूरों ,पर्यटको, छात्रों तथा अन्य नागरिकों को उनके गृह राज्य में भेजने के लिए सरकार की ओर से यह व्यवस्था की गई है। साथ ही हरियाणा का भी कोई नागरिक अगर दूसरे राज्यों में फंसा हुआ है तो उसे भी इस लिंक पर जाकर अपनी जानकारी देनी होगी।

उन्होंने बताया कि जिला में अगर कोई दूसरे राज्य का नागरिक है और वह घर जाना चाहता है तो वह वहीं से इस लिंक पर क्लिक करके संबंधित जानकारी पूरी करें। उपायुक्त ने स्पष्ट किया कि किसी भी प्रवासी मजदूर तथा छात्र व नागरिक को कहीं पर जाने की जरूरत नहीं है। वह फिलहाल जहां भी जिस गांव या शहर में रह रहे हैं वहीं से अपने मोबाइल से इस लिंक पर क्लिक करके अपनी सारी जानकारियां भरें। इसके बाद उन्हें घर भेजने की व्यवस्था की जाएगी।

उन्होंने सभी प्रवासी नागरिकों से आह्वान किया कि वे यहां-वहां न घूमे बल्कि जहां पर भी वे काम कर रहे हैं वहीं पर रहें और वहां से यह जानकारी उपलब्ध कराएं।

हेमा शर्मा ने बताया कि इन नागरिकों को पहुंचाने के लिए नोडल अधिकारी लगाए हुए हैं। गृह मंत्रालय के निर्देश अनुसार सभी श्रमिकों या नागरिकों की स्क्रीनिंग होगी इसके बाद गंतव्य पर पहुंचने पर यात्रियों की फिर से स्क्रीनिंग होगी और उन्हें एकांतवास में रहने को कहा जाएगा। सभी नागरिकों को जहां वे रह रहे हैं वहीं से भेजने की व्यवस्था की जाएगी। किसी रेलवे स्टेशन या बस स्टैंड पर खुद से आने की जरूरत नहीं है। अगर कोई ऐसा प्रवासी जो अपनी मर्जी से किसी बस स्टैंड या रेलवे स्टेशन पर पहुंचता है तो उसे नहीं भिजवाया जा सकेगा। संबंधित नागरिक को इस लिंक पर क्लिक करके अपनी सारी जानकारी पहले देनी होगी।

उपायुक्त ने बताया कि एक दूसरे राज्यों में आने व जाने के लिए सरकार द्वारा केंद्रीय कृत प्रणाली शुरू की है ताकि गृह मंत्रालय के दिशा निर्देशों अनुसार इन्हें लाने व ले जाने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की पालना हो सके इसके लिए पंजीकरण करवाना होगा। इन प्रक्रियाओं में से एक का पालन कर सकते हैं । ईदिशाडॉटजीओवीडॉट इन/ईफॉम्र्स/माईग्रैंटसर्विस पर जाकर पंजीकरण करवा सकता है।

अगर कोई ऐप पर पंजीकरण करना चाहता है तो वह गूगल प्ले स्टोर पर जाकर ‘जन सहयोग हेल्प मी’ एप डाउनलोड करे और सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करे।

डीसी हेमा शर्मा ने बताया कि यदि आप ऊपर दी गई दो प्रक्रियाओं के माध्यम से पंजीकरण नहीं करा सकते हैं और हरियाणा राज्य में मौजूद हैं तो आप 1950 या हरट्रोन के कॉल सेंटर नंबर 1100 पर कॉल करके भी सहायता ले सकते हैं। यदि आप राज्य से बाहर हैं तो आपको ऊपर दिए गए दो तरीकों से अपना पंजीकरण करवाना होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।