कुरुक्षेत्र में सोशल डिस्टेंस की पालना करते हुए खुलेंगी सभी तरह की दुकानें: धीरेन्द्र
May 3rd, 2020 | Post by :- | 149 Views

कुरुक्षेत्र, ( सुरेशपाल सिंहमार )    ।            जिलाधीश एवं उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि कोविड-19 की गाईड लाईंस के अनुसार कुरुक्षेत्र को ओरेंज जोन में शामिल किया गया है। इस जोन के नियमानुसार कुरुक्षेत्र में 4 मई से सुबह 7 बजे से लेकर शाम के 7 बजे तक सभी प्रकार की गतिविधियों को अनुमति दे दी गई है और सभी प्रकार की दुकानें भी सोशल डिस्टेंस की पालना करते हुए खोली जाएंगी। इतना ही नहीं शाम 7 बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक कुरुक्षेत्र में कफ्र्यू जैसी स्थिति रहेंगी।

उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने रविवार को देर सायं जारी आदेशों में कहा है कि एमएचए की गाईड लाईंस के अनुसार कोविड-19 के मरीजों की संख्या के आधार पर जिलों को रैड जोन, ग्रीन जोन और ओरेंज जोन में रखा जाएगा। इन आदेशों के बाद हरियाणा के मुख्य सचिव द्वारा वीडियों कान्फ्रेसिंग के माध्यम से हर जोन के बारें में कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए और यह भी आदेश दिए गए है कि कुरुक्षेत्र जिले को ओरेंज जोन में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि ओरेंज जोन में अंतर्राज्जीय बस सेवा पर पूर्णत्य प्रतिबंध रहेगा और सामाजिक और धार्मिक गतिविधियों पर प्रतिबंध रहेगा। लेकिन कुरुक्षेत्र में सुबह 7 बजे से लेकर सांय 7 बजे तक सभी प्रकार की गतिविधियां चालू रहेंगी। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रतिष्ठïान और होटल में 5 से ज्यादा लोगों के बैठने पर प्रतिबंध रहेगा। इस प्रकार के संस्थान में पैकिंग या फिर होम डिलिवरी से अपनी सेवाएं दे सकेंगे।

उन्होंने कहा कि दुपहिया वाहनों पर 2 ही व्यक्तियों को सम्बन्धित समय में दी गई छूट के अनुसार ही अनुमति रहेगी, इसके अलावा चौपहिया वाहन में ड्राईवर सहित 3 व्यक्तियों की अनुमति रहेगी, इसके अलावा मैक्सी कैब में भी ड्राईवर सहित 3 व्यक्तियों को अनुमति दी गई है। अगर कोई भी नियमों की उल्लघंना करते पाया गया तो उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उपायुक्त ने कहा कि कुरुक्षेत्र की सभी सामाजिक, व्यापारिक संगठनों के साथ बातचीत की जाएगी और आने वाले समय के लिए एक रोस्टर तैयार किया जाएगा ताकि कुरुक्षेत्र को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाया जा सके और इस जिले को ग्रीन जोन में लाया जा सके। उन्होंने कहा कि लिक्विर, पान की दुकान और अन्य सभी प्रकार की दुकानों पर सोशल डिस्टेंस की पालना करनी होगी। जहंा पर भी आदेशों की अवहेलना हुई तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

किन-किन गतिविधियों पर रहेगा प्रतिबंध
उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने कहा कि 4 मई से आगामी 2 सप्ताह तक मेडिकल सेवा और ऐयर एम्बुलैंस को छोडकर सभी घरेलु और अंतर्राष्टï्रीय हवाई यात्रा पर प्रतिबंध रहेगा, ट्रेन, अंतर्राज्जीय बस, मैट्रो रेल सेवा, व्यक्तिगत अंतर्राज्जीय मूवमेंट, सभी स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थान,ट्रेनिंग कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। मेडिकल रीजन के लिए अंतर्राज्जीय मूवमेंट के लिए छुट दी गई है। उन्होंने कहा कि होस्टपटैालिटी सेवाओं पर प्रतिबंध रहेगा, सिनेमा हॉल, शोपिंग हॉल, जिम, खेल प्रागंण, स्वीमिंग पूल, मनोरजंन पार्क, थियेटर, बार, अॅाडोटोरियम हॉल, एसम्बली हॉल पर प्रतिबंध रहेगा। सभी सामाजिक राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक और अन्य बहु संख्या में एकत्रित होने वाले लोगों के कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध रहेगा। इसके अलावा सभी धार्मिक स्थल लोगों के लिए बंद रहेंगे।

रात्रि 7 बजे से सुबह 7 बजे तक जिले में रहेगी कफ्र्यू जैसी स्थिति
जिलाधीश एवं उपायुक्त धीरेन्द्र खडगटा ने सीआरपीसी की धारा 144 के तहत आदेश जारी किए है कि 3 मई की रात्रि 7 बजे से सुबह 7 बजे तक जिला में कोई भी व्यक्ति बिना वजह मूवमेंट नहीं कर पाएगा। इतना ही नहीं 65 वर्ष से ज्यादा आयु वर्ग, गर्भवती महिला, 10 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चें और क्रानिक बीमारियों से ग्रस्त लोग इस समय अवधि के दौरान घर से बाहर नहीं निकलेंगे। केवल मेडिकल एम्रजेंसी के लिए ही अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन में ओपीडी और मेडिकल क्लीनिक बंद रहेंगी। इन आदेशों की अवहेलना करने पर आईपीसी की धारा 188, 269 और 270 के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

क्या होंगे कंटेनमेंट जोन के लिए आदेश
उपायुक्त ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में जरूरी वस्तुओं और सेवाओं, मेडिकल एम्रजेंसी के अलावा किसी प्रकार की मूवमेंट नहीं होगी, इस जोन में आने और जाने के लिए रास्ता चिन्हित किया जाएगा और सभी पर सख्त निगाहें रहेंगी, बिना चैकिंग के वाहनों का प्रवेश नहीं होगा। घरों और संस्थानों में बनाएं गए क्वांरटाईन लोगों पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की नजर रहेगी और किसी भी व्यक्ति में कोरोना वायरस के संक्रमण नजर आने पर तुरंत जांच की जाएगी, घर-घर जाकर टीमों द्वारा चैकिंग की जाएगी, लोगों की कांउसलिंग की जाएगी और सभी लोगों को आरोग्य सेतू एप डाउनलोड करना होगा। इसके अलावा किसी भी व्यक्ति को मूवमेंट करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।