फसल बीमा योजना में मुआवजा नही मिलने पर किसान हुआ परेशान
May 3rd, 2020 | Post by :- | 184 Views

गजसिंहपुर,(यश कुमार)। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ ना देने तथा अधिकारियों के द्वारा दुर्व्यवहार करने के बाबत एक मामला सामने आया है यह मामला ग्राम 4 एफ एफ बी कंवरपुरा के एक काशतकार सीताराम बिशनोई का है सीताराम ने बताया कि मैं दृष्टिबाधित रोग से ग्रस्त हूं मेरे व मेरे भाई प्रमोद कुमार के नाम भू राजस्व क्षेत्र चक सात एफ एफ बी मे 14 बीघा नहरी कृषि भूमि सयुंक्त रूप से दर्ज रिकॉर्ड राजस्व है इस भूमि पर हम दोनो भाईयों के द्रारा सयुंक्त रुप से खेती की जा रहीं हैं इस भुमि पर कुछ माह पहले कनक व सरसों की काशत की गई थी लेकिन दिनांक11/03/2020 साय कालीन को प्राकृतिक आपदा(ओलावृष्टि) की वजह से मेरी पकी हुई फसल सरसो 8 बीघा व कनक 6 बीघा खराब हो गई थी ।

फसल खराब होने के अगले दिन मै प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत फसल का कलेम प्राप्त करने के लिए आवेदन अपने क्षेत्राधिकार के भारतीय स्टेट बैंक शाखा गजसिंहपुर से तस्दीक करवाकर अपने क्षेत्र की तहसील कार्यालय रायसिंहनगर के टी आर ए अधिकारी से जाच करवाकर अपनी पंचायत समिति में मुकेश कुमार बीमा प्रतिनिधि को दे दिया मगर आज तक मुझे मेरी खराब फसल का कलेम नही मिला फसल के कलेम के लिए जब मैने मुकेश कुमार से सम्पर्क किया तो उसने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया तथा मेरे अंधेपन का मजाक उड़ाया और कहा कि तेरी खराब फसल का 20% भाग ही क्लेम में पास करवाऊगा और धमकी दी की ।

अगर मेरे पास बीमा कलेम के बारे मे फिर से पुछने आया तो तुझे बीमा कलेम नही मिलने दूगा व तेरा सारा कलेम रूकवा दूगा सीताराम ने बताया की मै एक गरीब काशतकार हू तथा मेरी आजीविका का साधन एकमात्र उक्त कृषि भुमि ही है इसके अलावा मेरे पास कोई आय का सत्रोत नही है मैने अपनी उक्त भुमि की उन्नति के लिए भारतीय स्टेट बैंक शाखा गजसिंहपुर से के सी सी बधवा रखी है तथा अपने उक्त के सी सी खाते से वर्ष 2016 से लगातार छ माह फसल बीमा की राशि कटवा रहा हू ।

मेरी लगभग 95प्रतिशत फसल ओलावृष्टि से खराब हो चुकी हैं जिस कारण मुझे काफी मानसिक परेशानी हो गई हैं और बीमा कर्मचारी भी मुझे मेरी फसल बीमा कलेम रुकवाने की धमकी दे रहे है सीताराम बिशनोई ने इसी समस्या के बावत बुधवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को मेल किया और आग्रह किया की इन भष्ट अधिकारियों के कारण आज काशतकार आत्महत्या कर रहा है ऐसे लोगो पर तुरंत कार्यवाही करे और मुझे मेरा फसल बीमा कलेम दिलवाये ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।