दीपांशु बंसल बने एनएसयूआई आरटीआई सेल के राष्ट्रीय कन्वीनर।
May 1st, 2020 | Post by :- | 67 Views

पिंजौर (चन्दरकान्त शर्मा) । कांग्रेस छात्र इकाई, एनएसयूआई में हरियाणा के दीपांशु बंसल को राष्ट्रीय पटल पर एहम जिम्मेवारी देते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की संयुक सचिव व राष्ट्रीय प्रभारी रुचि गुप्ता की स्वीकृति से आरटीआई सेल का राष्ट्रीय कन्वीनर नियुक्त किया है। जानकारी देते हुए राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी लोकेश चुग ने सूचना दी है कि देशभर में भाजपा सरकार के घोटालों व झूठे वायदों को आरटीआई के माध्यम से उजागर करने के लिए दीपांशु बंसल को राष्ट्रीय कन्वीनर नियुक्त किया गया है। इससे पूर्व दीपांशु बंसल मीडिया व आरटीआई सेल के राष्ट्रीय कोर्डिनेटर तथा हरियाणा एनएसयूआई के प्रदेश सचिव के रूप में कार्य कर संगठन को मजबूत करते आ रहे है।संगठन व कांग्रेस पार्टी के प्रति कर्तव्यनिष्ठा व काबिलियत को देखते हुए दीपांशु बंसल को नियुक्त किया गया है। राष्ट्रीय कार्यकारिणी में दीपांशु सबसे युवा है।

दीपांशु बंसल ने अपनी नियुक्ति पर एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन, राष्ट्रीय प्रभारी रुचि गुप्ता, युवा कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव सुरभि द्विवेदी, सन्नी मेहता, दिव्यांशु बुद्धिराजा समेत कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी,राहुल गांधी व कोर कमेटी के सदस्य रणदीप सुरजेवाला का आभार व्यक्त किया है। दीपांशु बंसल ने कहा कि उनको राष्ट्रीय नेतृत्व द्वारा दी गई जिम्मेवारी को पूर्णतः निभाएगे। भाजपा सरकार द्वारा किए गए घोटालों को आरटीआई के माध्यम से जन जन तक पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके साथ ही छात्रों को उनका हक दिलवाने के लिए एनएसयूआई के आरटीआई सेल एक एहम भूमिका निभाने का काम करेगा।

दीपांशु बंसल की नियुक्ति पर एनएसयूआई व कांग्रेस खेमे के साथ साथ इलाके में खुशी की लहर है जिसके लिए उनके पिता व हरियाणा सरकार में चेयरमेन रह चुके विजय बंसल एडवोकेट का कहना है कि उन्हें गर्व है कि दीपांशु कांग्रेस पार्टी के माध्यम से जनसेवा में आगे कदम बढ़ा रहा है। लोकडाउन के चलते सोशल मीडिया पर युवाओ द्वारा दीपांशु की नियुक्ति को लेकर काफी खुशी देखने को मिल रही है।

आरटीआई के माध्यम से दीपांशु बंसल ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के 62 करोड़ के घोटाले समेत अन्य मामलों को आरटीआई के माध्यम से उजागर का काम किया है। दीपांशु बंसल का कहना है कि एक पारदर्शी सरकार जनता को देने के लिए कांग्रेस द्वारा आरटीआई एक्ट बनाया गया था व अब भाजपा सरकार द्वारा किए जस रहे घोटालों को आरटीआई के माध्यम से उजागर किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।