भाभी जी घर पर हैं : अंगूरी भाभी को देखने – सुनने के लिए चूरू पुलिस के पेज पर जुड़े देश-विदेश से लोग
May 1st, 2020 | Post by :- | 44 Views

चूरू। प्रदेश की चूरू जिला पुलिस व फिल्मस्तान की ओर से फेसबुक लाइव ऑनलाइन सेशन में शुक्रवार को धारावाहिक भाभी जी घर पर हैं…फेम अभिनेत्री शुभांगी अत्रे (अंगूरी भाभी) चूरू वासियों से रूबरू हुईं। इस दौरान अंगूरी भाभी को देखने व सुनने के लिए ना सिर्फ चूरू बल्कि राजस्थान सहित देश के कोने-कोने और दुबई तक से लोगों ने इस फेसबुक लाइव सेशन को देखा। अंगूरी भाभी ने अपने चिर परिचित अंदाज में भाभी जी घर हैं… सीरियल के डॉयलॉग्स बोलते हुए लॉकडाउन के नियमों का कड़ाई से पालन करने को कहा। जब जनता ने उनसे सवाल पूछे तो उन्होंने कहा हाय दैया…लॉकडाउन को सही से पकड़े हैं।

सेशन के दौरान अंगूरी भाभी ने सेट पर हुए उनके अनुभवों को साझा किया। भाभी जी घर पर हैं धारावाहिक से ख्याति पा चुकी शुभांगी अत्रे उर्फ अंगूरी भाभी ने जनता को लॉकडाउन के दौरान जारी की गई गाइडलाइन का पालन करने के लिए कहा। साथ में उन्होंने चूरू पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम का भी आभार व्यक्त किया कि उन्होंने इस तरीके की मुहिम चलाकर लोगों को घर में ही रहने के लिए प्रेरित किया है। अंगूरी भाभी ने जनता से अपील करते हुए कहा कि उन्हें घर में ही रहना चाहिए और सोशल डिस्टेंसिंग रखनी चाहिए। साबुन से लगातार हाथ होने चाहिए और घर में रहते हुए अपने पुराने शौक को जिंदा रखने का प्रयास करना चाहिए।

जनता के साथ उन्होंने अपने घर में रहने के अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि वह लॉकडाउन के दौरान अपने पुराने शौक कथक नृत्य करके पूरा कर रही हैं। इससे उन्हें मानसिक और आत्मिक शांति मिल रही है। साथ ही वह घर पर रहने से होने वाली बोरियत से भी बची हुई हैं। उन्होंने कहा कि लगातार घर में रहने से व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं, लेकिन यह समय ऐसा नहीं है। हमें डिप्रेशन को रोकना होगा, क्योंकि यह अंधेरा जल्द ही मिटेगा और हम सब एक बार फिर नॉर्मल लाइफ में लौटेंगे।

शुभांगी अत्रे ने भाभी जी घर पर हैं सीरियल के सेट के अनुभव साझा करते हुए बताया कि जब वह पहली बार सेट पर पहुंचीं और कैमरे के सामने आई तो कैमरे का लैंस टूट गया, जिससे वह बेहद डर गई थी। उन्हें लगा कि यह एक बहुत बड़ी गलती हो गई है लेकिन जब यूनिट वाले तालियों से उनका स्वागत करने लगे और उन्हें बताया गया कि यह बहुत शुभ शगुन है कि शुरुआत होते ही कांच का टूट गया, तब जाकर उन्हें शांति मिली और इसका परिणाम सबके सामने है कि आज सीरियल ने सफलतापूर्वक इतने एपीसोड पूरे कर लिए हैं और देश भर की जनता का प्यार उन्हें मिल रहा है।

अभिनेत्री शुभांगी अत्रे ने कहा कि वह राजस्थानी संस्कृति से काफी प्रभावित है। इसके साथ ही वह प्रकृति से बहुत अधिक प्यार करती हैं। जब भी उन्हें फुर्सत के क्षण मिलते हैं तो वह किसी भी फॉरेस्ट रिजर्व क्षेत्र में जाकर अपनी छुट्टियां बिताना पसंद करती हैं। उन्होंने चूरु वासियों को बताया कि वह जयपुर आ चुकी हैं और सवाई माधोपुर के प्रसिद्ध रणथंभौर नेशनल पार्क में भी जा चुकी हैं। चूरू एसपी तेजस्विनी गौतम की इस मुहिम के बारे में शुभांगी अत्रे ने कहा कि उन्हें चूरू एसपी के प्रयासों से यह चीज क्लियर हो गई है कि देश का पुलिस प्रशासन जनता की भलाई के लिए बेहद मुस्तैद है। इस चुनौती भरे माहौल में वह जनता को एक सकारात्मक सोच प्रदान करने के लिए काफी कुछ कर रहे हैं।

अभिनेत्री ने कहा कि जनता को भी चाहिए कि वह पुलिस कर्मियों का सम्मान करें। चिकित्सा कर्मियों का सम्मान करें व सफाई कर्मियों का भी सम्मान करें क्योंकि यह लोग इस समय कोरोना वॉरियर्स के रूप में हम सबकी जान बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालकर लगातार काम कर रहे हैं। इन सभी के सामूहिक प्रयासों को हमें सफल बनाना है। हमें घरों में रहना है जिससे कि हम कोरोना काल के संकट से लड़ सकें और एक नई सुबह का इंतजार कर सकें। वह सुबह जो खुशहाल होगी, समृद्ध होगी और जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण और ध्वनि प्रदूषण से रहित होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।