प्रदेश के सभी सामाजिक सुरक्षा पैंशन लाभार्थियों को 03 माह की अग्रिम पैंशन प्रदान-डॉ. सैजल
May 1st, 2020 | Post by :- | 49 Views

सोलन ! डॉ. सैजल ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से की सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की गतिविधियों की समीक्षा
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा सहकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत समाज के लक्षित वर्गों को राहत प्रदान करने के उद्देश्य से सामाजिक सुरक्षा पैंशन के 05 लाख 69 हजार 58 लाभार्थियों को पैंशन के रूप में 02 अरब 17 करोड़ 85 लाख 62 हजार 358 रुपये उपलब्ध करवाए हैं। लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन के रूप में 03 माह अप्रैल, मई तथा जून, 2020 की राशि अग्रिम उपलब्ध करवाई गई है ताकि संकट के इस समय में उन्हें सम्बल मिल सके। डॉ. सैजल आज यहां से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा कर्फ्यू अवधि में की गई गतिविधियों की समीक्षा कर रहे थे।
डॉ. सैजल ने कहा कि विभाग के सभी अधिकारी, कर्मचारी विशेष रूप से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं ने कोविड-19 के संकट के दृष्टिगत सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि एक्टिव केस फाइडिंग अभियान में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं ने घर-घर पहुंचकर न केवल कोरोना वायरस संक्रमण के विषय में जानकारी प्राप्त की है अपतिु लोगों को जागरूक भी बनाया है।
उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा अप्रैल माह में 3.52 लाख बच्चों को आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से प्रदान किया जाने वाला पोषाहार घर-घर जाकर उपलब्ध करवाया गया है। 92 हजार गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को भी उनके आवास पर पोषाहार उपलब्ध करवाया गया है। उन्होंने कहा कि मई माह का पोषाहार भी उपलब्ध करवाना आरंभ कर दिया गया है।
डॉ. सैजल ने कहा कि विभाग अपने सभी वृद्ध, बालिका एवं दिव्यांग आश्रमों का समुचित रखरखाव एवं इनमें रहने वालों की पूर्ण देखभाल सुनिश्चित बना रहा है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न स्वयं सहायता समूहों तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं द्वारा उत्तम गुणवत्ता के मास्क बनाकर निःशुल्क वितरित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि विभाग का लक्ष्य विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों एवं समाज के वंचित वर्गों तक मास्क पहुंचाना है ताकि सभी को कोरोना वायरस के विरूद्ध प्राथमिक स्तर की सुरक्षा मिल सके।
डॉ. सैजल ने इस कठिन समय में पूरे प्रदेश में विभिन्न गतिविधियों के संचालन एवं जन-जन को राहत पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के कुशल एवं संवेदनशील नेतृत्व में हिमाचल ने कोविड-19 के विरूद्ध लड़ाई में पूरे देश को राह दिखाई है।
वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में अवगत करवाया गया कि बिलासपुर जिला में सामाजिक सुरक्षा पैंशन के 38251 लाभार्थियों को लगभग 14.47 करोड़ रुपये, चंबा में 40342 लाभार्थियों को लगभग 14.50 करोड़ रुपये, पांगी में 1822 लाभार्थियों को 1.09 करोड़ रुपये, भरमौर में 3643 लाभार्थियों को लगभग 2.51 करोड़ रुपये, हमीरपुर जिला में 36794 लाभार्थियों को लगभग 14.31 करोड़ रुपये, कांगड़ा जिला में 121894 लाभार्थियों को लगभग 45.44 करोड़ रुपये, कुल्लू जिला में 39163 लाभार्थियों को लगभग 14.22 करोड़ रुपये, मण्डी जिला में 104345 लाभार्थियों को लगभग 38.80 करोड़ रुपये, शिमला जिला में डोडरा क्वार के अतिरिक्ति 61465 लाभार्थियों को लगभग 22.76 करोड़ रुपये, डोडरा क्वार में 841 लाभार्थियों को 57.59 लाख रुपये, सिरमौर जिला में 38033 लाभार्थियों को लगभग 14.38 करोड़ रुपये, सोलन जिला में 33940 लाभार्थियांे को लगभग 12.44 करोड़ रुपये, ऊना जिला में 39611 लाभार्थियों को लगभग 15.55 करोड़ रुपये, किन्नौर जिला में 6195 लाभार्थियों को लगभग 4.73 करोड़ रुपये, लाहौल-स्पीति जिला के लाहौल में 1920 लाभार्थियों को लगभग 1.53 करोड़ रुपये तथा स्पीति में 799 लाभार्थियों को लगभग 52.77 लाख रुपये प्रदान किए गए हैं।
वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में अवगत करवाया गया कि प्रदेश में सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं तथा सहायिकाओं के लिए मास्क एवं सेनिटाइजर इत्यादि क्रय करने के लिए 1000-1000 रुपये उपलब्ध करवाने पर कुल 1.89 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं।
अतिरिक्त मुख्य सचिव सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग निशा सिंह ने विभागीय गतिविधियों की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों एवं अपनाए गए सुरक्षा मानकों की भी जानकारी दी।
वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में महिला एवं बाल विकास विभाग की निदेशक कृतिका कुल्हारी, अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक मामले विभाग के निदेशक हंसराज चौहान, सभी जिलों के जिला कल्याण अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।