प्रदेश शिक्षा मंत्री श्री सुरेश भारद्वाज बताएं क्यों चोर दरवाजे से रखे गए एसएमसी शिक्षकों की पैरवी कर रहे हैं:-हिमाचल प्रदेश बेरोजगार संघ
May 1st, 2020 | Post by :- | 4675 Views

लोकहित एक्सप्रेस (हिमाचल):-आज दिनांक 01/05/2020 को बेरोजगार संघ हिमाचल प्रदेश ने प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप मनकोटिया तथा उपाध्यक्ष विजय सिंह की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आपातकाल मीटिंग की I इस अवसर पर संघ के उपाध्यक्ष विजय सिंह ने सरकार की क्षेत्रवाद की नीतियों की घोर निंदा की तथा सरकार से 10 सूत्री कार्यक्रम का जवाब मांगा I (1) माननीय प्रदेश उच्च न्यायालय के दिशा निर्देशों  ( 5 अगस्त 2019) के बाद भी आज तक एसएमसी अध्यापकों को प्रदेश के सरकारी स्कूलों में क्यों जारी रखा ?

(2) जो प्रधानाचार्य तथा मुख्याध्यापक कोर्ट के आदेश के बावजूद एसएमसी शिक्षकों की सेवाएं ले रहे हैं क्यों न उनके विरुद्ध कार्रवाई अमल में लाई जाए ?

(3) क्लोज 9 के अंतर्गत पिछले 7 सालों मैं नियमित अध्यापकों के आने पर एसएमसी शिक्षकों को क्यों नहीं हटाया गया ?

(4) शिक्षा मंत्री क्या सोचकर इनके पक्ष में कोर्ट में अर्जी लगाए बैठे हैं क्या बे कोर्ट तथा संविधान से बड़े हो गए हैं ?

(5) शिक्षा मंत्री क्या सोचकर एसएमसी पॉलिसी को कैबिनेट में ले जाने की बात करते हैं क्या वे कांग्रेस के भ्रष्टाचार को पाल पोस रहे हैं ?

(6) अगर s.m.c. ही चयन का माध्यम है तो प्रदेश के दो चयन बोर्ड ओ को क्यों ना बंद कर दिया जाए ?

(7) क्लोज 10 के अनुसार नए शैक्षिक व सत्र में पहले से नियुक्त एसएमसी शिक्षकों शिक्षकों को सेवा विस्तार किस आधार पर दिया गया ?

(8) एक स्टेट की पोस्ट को आपने जिला स्तर पर कैसे भर सकते हैं अगर पूर्व कांग्रेस सरकार ने भ्रष्टाचार किया तो पिछले 2 सालों में आपने उस भ्रष्टाचार को खत्म क्यों नहीं किया ?

(9) शिक्षा विभाग में खाली पड़े पदों को कोर्ट के दिशा निर्देशों के बावजूद भी क्यों नहीं भरा गया क्यों हर कैबिनेट मीटिंग में पीटीए और एसएमसी के ऊपर चर्चा होती रही ?

(10) क्यों हर बार क्षेत्रवाद की पॉलिसीज को चला कर जिसमें पीटीए पैरा विद्या उपासक ब्लंट ईयर तथा पता नहीं कितने नामों से हिमाचल प्रदेश में विभिन्न सरकारों द्वारा अपने चहेतों को नौकरियां बांटी है और जिनको बाद में रेगुलर कर दिया जाता है?

इस अवसर पर संघ के सभी सदस्यों ने सरकार तथा विपक्ष के नेता श्री अग्निहोत्री को चेतावनी देते हुए कहा कि एसएम सी जैसी भ्रष्ट पॉलिसी को हिमाचल प्रदेश में बंद किया जाए दोनों सरकारों ने हिमाचल प्रदेश के लाखों बेरोजगारों का शोषण किया है जिसमें सबसे ज्यादा कांगड़ा हमीरपुर उन्ना मंडी तथा बिलासपुर के युवाओं का शोषण हुआ है हिमाचल प्रदेश बेरोजगार संघ इस मुश्किल टाइम है सरकार के साथ है परंतु यदि सरकार ने इन शिक्षकों को एक्सटेंशन दी तो लोग डॉन के बाद प्रदेश भर में आंदोलन होंगे तथा हिमाचल प्रदेश बेरोजगार संघ समाज के प्रत्येक नागरिक तक सरकार के इसभ्रष्ट कार्य को लेकर जाएगा प्रदेश कार्यकारी के अन्य सदस्य कुलदीप मनकोटिया प्रदेश अध्यक्ष विजय सिंह उपाध्यक्ष अजय रतन संजय राणा मनीष कुमार सचिव joint secretary lekhraj कोषाध्यक्ष संजीव जिलाध्यक्ष बिलासपुर पुरुषोत्तम जिला अध्यक्ष हमीरपुर शैलजा जिलाध्यक्ष शिमला करण ठाकुर जिलाध्यक्ष चंबा अनूप वर्मा जिलाध्यक्ष मंडी सुरेश कुमार अतिरिक्त कार्यभार प्रदेश sc.st.obc अध्यक्ष जिलाध्यक्ष कांगड़ा स्वरूप कुमार आदि माननीय हाईकोर्ट हिमाचल प्रदेश द्वारा 5 अगस्त 2019 को इन शिक्षकों को बाहर निकालने का आदेश जारी किया था जिसकी कॉपी मीडिया की सेवा में प्रेषित की जा रही है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।