डी.सी. अशोक कुमार ने साहा और अम्बाला वन ब्लॉक के सक्षम होने के दृष्टिगत जिला शिक्षा अधिकारी सहित शिक्षक वर्ग को दी बधाई।
April 30th, 2020 | Post by :- | 34 Views

अम्बाला (अशोक शर्मा) डी.सी. अशोक कुमार शर्मा ने जिला के अम्बाला वन और साहा ब्लॉकों के सक्षम होने के दृष्टिगत जिला शिक्षा अधिकारी उमां शर्मा और शिक्षक वर्ग को बधाई देते हुए कहा कि बच्चों को उनकी कक्षा के अनुरूप सक्षम बनाकर शिक्षकों द्वारा प्रेरक और अनुसरणीय कार्य किया गया है, इसके लिए सभी शिक्षक बधाई के पात्र हैं। अन्य शेष बचे चार ब्लॉकों को भी निर्धारित मापदंड के तहत सक्षम करना है ताकि बच्चे अपनी कक्षा अनुरूप सम्बन्धित विषयों में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सक्षम बन सकें।
डी.सी. ने कहा कि अम्बाला-2 ,बराडा,नारायणगढ़ और शहजादपुर ब्लॉक सक्षम होने के नजदीक हैं। सभी खंडों को भी निर्धारित मापदंड के तहत शिक्षित किया जाए ताकि शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रदर्शन करते हुए सम्बन्धित कक्षाओं के बच्चे नए अध्यायों का सूत्रपात कर सकें। उन्होंने मौके पर उपस्थित जिला शिक्षा अधिकारी ऊमा शर्मा और बीईओ सुधीर सहित पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि बच्चों को उनकी कक्षा के अनुरूप सक्षम करना सरकार की निर्धारित योजना है। शेष बचे ब्लॉकों में शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों को कक्षा अनुरूप सक्षम बनाने के लिए योजनाबद्घ तरीके से काम करें। इस मौके पर उन्होंने सामाजिक दुरी अपनाते हुए डीईओ की पुरी टीम को पुष्प प्लांट देकर सम्मानित किया।
इस संदर्भ में जब जिला जिला शिक्षा अधिकारी उमा शर्मा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सक्षम योजना के तहत तीसरी से आठवीं तक के बच्चों को सक्षम बनाए जाने के दृष्टिगत साहा और अम्बाला वन सक्षम हो गए हैं। तीसरी कक्षा के लिए हिन्दी और गणित जबकि चौथी व पांचवी कक्षा के लिये हिन्दी, गणित और पर्यावरण विषयों में सम्बन्धित कक्षाओं के बच्चों को सक्षम करने का पैमाना निर्धारित हैं। इसी प्रकार छठी से आठवीं तक के बच्चों को हिन्दी, गणित, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान में कक्षा अनुरूप सक्षम बनाए जाने के मापदंड निर्धारित है। राज्य में 22 ब्लाक सक्षम हुए है,जिनमें से दो अम्बाला जिला के है। इस मौके पर नगराधीश कपिल शर्मा,डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह,सीएमजीजीए रूखबा,सुरेन्द्र मोहन, रविन्द्र कौर तथा रेणु अग्रवाल भी उपस्थित थी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।