1500 कोरोना योद्घाओं को वितरित की गई रोग प्रतिरोधात्मक किटें–इनमें विशेष रूप से शामिल हैं गिलोए घनवटी और अणु तेल:-जिला आयुर्वेदिक अधिकारी सतपाल सिंह।
April 30th, 2020 | Post by :- | 52 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा) जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डा0 सतपाल सिंह ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के दृष्टिगत हमारी प्राचीन आयुर्वेदिक पद्घति रोग प्रतिरोधात्मक क्षमता बढ़ाने के लिये कारगर मानी जाती है। वर्तमान दौर में देखा जाए तो कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के दृष्टिगत काफी लोग अपनी प्रतिरोधात्मक क्षमता बढ़ाने के लिये आयुर्वेद पर आधारित दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं। इन दवाओं में मुख्य रूप से गिलोए घनवटी और अणु तेल इत्यादि शामिल हैं। इनके अलावा तुलसी, गिलोए, अदरक, हल्दी, काली मिर्च, दालचीनी इत्यादि ऐसी आयुर्वेदिक औषधियां हैं जो मनुष्य की आंतरिक शारीरिक क्षमता और दक्षता बढ़ाने का काम करती हैं। इन चीजों का प्रयोग खाद्यान्न सामग्री बनाने के साथ-साथ ग्रीन टी के रूप में प्रयोग किया जाता है।
आयुर्वेदिक अधिकारी ने यह भी बताया कि स्वास्थ्य एवं आयुष मंत्री अनिल विज के निर्देशानुसार और महानिदेशक आयुष विभाग अतुल कुमार के मार्गदर्शन में जिला में आयुर्वेद पर आधारित औषधियां वितरित करने का काम निरंतरता में जारी है। अब तक विभिन्न विभागों को करीब 1500 लघु किटें वितरित की जा चुकी हैं, जिनमें गिलोए घनवटी और अणु तेल शामिल हैं। इसके अलावा पुलिस विभाग को करीब 3000 और पंचायती राज संस्थाओं को भी लगभग इतनी ही लघु किटें बांटी जानी हैं, जिसके लिए रूपरेखा तैयार की जा चुकी है और शीघ्र ही बंटवाने का काम शुरू किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि जिला स्थित सभी वृद्घाश्रमों में भी इस प्रकार की लघु किटें वितरित की जाएंगी ताकि बुजुर्गों की शारीरिक क्षमता को अपेक्षाकृत और बेहतर किया जा सके।
कोरोना वायरस को रोकने के दृष्टटगत उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में आयुष विभाग की टीमें जिला के विभिन्न क्षेत्रों में लोगों को जागरूक करने का काम कर रही हैं। इन टीमों में आयुष विभाग के डा0 सतपाल, डा0 चन्दन दुआ, डा0 दर्शन इत्यादि शामिल हैं। जिला आयुर्वेद अधिकारी डा0 सतपाल सिंह के निर्देशानुसार नितिन तोमर, शिव चरण आयुर्वेदिक फ ार्मासिस्ट के द्वारा कोरोना योद्वाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने हेतु आयुर्वेदिक औषधियॉ वितरित की जा रही हैं। आयुष विभाग के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारियों द्वारा कोरोना योद्वाओं को सोशल डिस्टैंसिंग को बनाए रखने हेतु जागृत किया जा रहा है। डा0 सतपाल सिंह ने बताया कि जिला अम्बाला में 18 आयुर्वेदिक, 01 यूनानी व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में 11 आयुर्वेदिक, होम्यापैथिक आयुष विगं है जिनमें कार्यरत आयुष विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों के द्वारा कोरोना वायरस को लेकर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जागरूक किया जा रहा है तथा आयुर्वेदिक उपायों बारे जानकारी दी जा रही है । इसके अतिरिक्त आयुष विभाग के चिकित्सा अधिकारियों द्वारा स्वास्थ्य विभाग के निर्देशन में मोबाइल बस टीमों में रोगियों का चिकित्सा निरीक्षण किया जा रहा है तथा अन्य चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही हैं। जिला आयुर्वेद अधिकारी द्वारा जनता को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने हेतु आयुष मंत्रालय द्वारा जारी की गई दिशा निर्देशों की पालना करने हेतु आह्वान किया तथा कोरोना योद्धाओं एवं आम जनता से अपील है कि वे कोरोना वायरस से बचने के लिए सावधानी बरतें ,सोसियल डिस्टैसिंग के नियम का पालन करें तथा अपने हाथों का सही प्रकार से धोएं। लॉकडाउन का पालन करें और अपने घरों में रहें व स्वस्थ रहें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।