राशन डिपो पर ओटीपी के माध्यम से ही होगा गेहूं का वितरण
April 30th, 2020 | Post by :- | 91 Views

गजसिंहपुर,(यश कुमार)। कोविड-19 विश्व व्यापक महामारी के दौरान राशन सामग्री के वितरण व्यवस्था सुचारू बनाने के लिये तथा खाद्यान्न को लाभार्थियों तक पहुचाने के लिये सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है कि भारत सरकार की योजनाओं के अंतर्गत दिये जाने वाले राशन सामग्री के वितरण को सुचारू रूप से क्रियान्वित करने हेतु पोस मशीन में राशनकार्ड नम्बर के स्थान पर आधार कार्ड नम्बर दर्ज कर ओटीपी के माध्यम से ही गेहूं का वितरण किया जायेगा इस हेतु लाभार्थियों को राशन सामग्री प्राप्त करने के लिये आधार कार्ड साथ में लाना अनिवार्य होगा।

जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम. नकाते ने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार आधार कार्ड नम्बर से गेहूं के वितरण के लिये डीलर द्वारा लाभार्थी का आधार कार्ड नम्बर पोश मशीन पर प्रविष्ट किया जायेगा इसके बाद लाभार्थी के भामाशाह, जनआधार, आधार डेटाबेस में उपलब्ध मोबाईल नम्बर पर एसएमएस के माध्यम से ओटीपी भेजा जायेगा व लाभार्थी द्वारा डीलर को ओटीपी उपलब्ध करवाने के पश्चात पोस मशीन में ओटीपी नम्बर दर्ज कर सत्यापन उपरांत राशन डीलर द्वारा लाभार्थी को राशन सामग्री का वितरण पोस मशीन से कर दिया जायेगा यदि लाभार्थी डीलर को तय समय सीमा में ओटीपी उपलब्ध नही करवा पाता है।

तो डीलर द्वारा पोस मशीन पर उपलब्ध करवाये गये कारणों में से किसी एक कारण को चुनते हुए राशन का वितरण पोस मशीन से किया जायेगा इन कारणो में ओटीपी प्राप्त नही हुआ, मोबाईल नम्बकर रजिस्टर नही है तथा लाभार्थी के पास मोबाईल नही है, सम्मिलित है उन्होंने बताया कि समस्त प्रक्रिया पोस मशीन से होने के कारण उचित मूल्य दुकानदार द्वारा ऐसे ट्रांजेक्शन के लिये कोई रजिस्टर संधारण नही किया जायेगा वर्तमान में चल रही आॅफलाईन उचित मूल्य दुकानों के अलावा राशन वितरण के समस्त ट्रांजेक्शन पोस मशीन द्वारा ही किये जायेगें ।

जिन राशनकार्ड धारकों के आधार नम्बर पीडीएस डेटाबेस में उपलब्ध है उनको राशन का वितरण आधार नम्बर के माध्यम से किया जायेगा एंव जिनके आधार नम्बर डेटाबेस में उपलब्ध नही है उनको राशन सामग्री पूर्व की भांति पोस मशीन में राशनकार्ड नम्बर दर्ज कर ओटीपी के माध्यम से वितरित की जावेगी यह व्यवस्था पूरे राज्य में मई माह के लिये आवंटित खाद्य सुरक्षा योजना तथा प्रधानमंत्राी गरीब कल्याण योजना के वितरण से प्रारम्भ होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।