फिल्म अभिनेता पद्मश्री इरफान खान के निधन पर कलाकारों ने जताया दुख

टीवी और फिल्म जगत के जाने माने अभिनेता इरफान खान का बुधवार को निधन हो गया। जिसके कारण फिल्म जगत के साथ साथ रंगजगत में भी शोक पसर गया। लम्बे समय से बीमारी से जूझ रहे इरफान खान को मंगलवार को कोलन इनफेक्शन के चलते मुंबई के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।
लेकिन तबीयत में अधिक सुधार न होने के कारण बुधवार को उन्होंने अंतिम सांस ली। 54 साल के इरफान कैंसर और आंतों के इन्फेक्शन से जूझ रहे थे। इरफान खान के निधन पर हरियाणा कला परिषद के उपाध्यक्ष संजय भसीन ने भी शोक व्यक्त किया तथा दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। इरफान खान के सम्बंध में जानकारी सांझा करते हुए संजय भसीन ने कहा कि इरफान खान टीवी व फिल्म जगत के बेहतरीन कलाकारों में से एक थे। वे आंखों से अदाकारी के लिए जाने जाते थे। उन्होंने अपने अभिनय के करियर की शुरुआत जयपुर के रवींद्र मंच से की थी। जयपुर में नाटक की बारीकियां सीखने के बाद इरफान दिल्ली चले गए। दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एक्टिंग को निखारा। इसके बाद उन्होंने मुम्बई का रुख किया और एक से बढ़कर एक फिल्मों में अभिनय कर बालीवुड में सितारे के रुप में पहचान बनाई। हिंदी मिडियम, पिकू, द लंच बाॅक्स, स्लमडाॅग मिलेनियर, हासिल, दिल्ली 6, मकबूल, बिल्लू बार्बर आदि फिल्मों के साथ साथ द ग्रेट मराठा, चाणक्य, चंद्रकांता जैसे धारावाहिकों में भी अपने अभिनय से इरफान खान ने मिसाल कायम की। इसके अतिरिक्त हालीवुड फिल्म द लाईफ आॅफ पाई, जुरासिक वल्र्ड में भी अपने दमदार अभिनय को दिखाकर इरफान खान ने लोहा मनवाया। अपनी मेहनत और अनुभव से कार्य करते हुए इरफान खान ने कईं पुरस्कार अपने नाम किये। वर्ष 2011 में पद्मश्री पुरस्कार से भी इरफान खान को नवाजा गया। संजय भसीन ने दुख व्यक्त करते हुए कहा इरफान खान सिनेजगत के उम्दा कलाकारों में शुमार थे, जिनकी कमी फिल्म और रंगजगत को सदैव खलती रहेगी।
न्यू उत्थान थियेटर ग्रुप के अध्यक्ष नीरज सेठी, सचिव मीनाक्षी शर्मा, सांस्कृतिक प्रभारी विकास शर्मा, नरेश सागवाल, शिव कुमार किरमिच, साजन कालड़ा, निकिता शर्मा, दीपक जांगड़ा, मनीष डोगरा, सुग्रीव मैहरा, महक माल्यान, पारुल कौशिक, शायना जग्गा, राजीव कुमार, ईशांत, कुलदीप शर्मा, चंचल शर्मा, साहिल खान,   आदि रंगकर्मियों ने भी इरफान खान के निधन पर शोक व्यक्त किया।