हिसार में एक दिन में कोरोना संदिग्ध युवक और चार वर्षीय बच्चे की मृत्यु।
April 29th, 2020 | Post by :- | 46 Views

(लवकेश कथूरिया)हिसार के नागरिक अस्पताल में दाखिल दो कोरोना संदिग्ध लोगों ने मंगलवार को दम तोड़ दिया। इनमें से एक 36 वर्षीय युवक आइसोलेशन वार्ड और चार साल का बच्चा इमरजेंसी वार्ड में दाखिल था। अस्पताल प्रशासन ने इन दोनों को कोरोना संदिग्ध मानते हुए उनके सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे। इनके सैंपल की रिपोर्ट बुधवार को आएगी।   मृतक युवक के छोटे भाई ने बताया कि उसका भाई मजदूरी करता था। करीब 20 दिनों से उसे बुखार और दो-तीन दिन से खांसी की शिकायत थी। सोमवार को उसके भाई की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। इसके बाद वह उसे अग्रोहा के प्राइवेट क्लीनिक में लेकर गए, लेकिन उन्होंने इलाज व दवा देने से मना कर दिया। उसके बाद मंगलवार करीब 11 बजे वह उसे जिला नागरिक अस्पताल में लेकर गए, क्योंकि उसके भाई ने कोरोना के भय से अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जाने से मना कर दिया। यहां आने पर डॉक्टरों ने उसे आइसोलेशन वार्ड में दाखिल कर लिया। यहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।
मृतक बच्चे के पिता ने बताया कि वह रेड स्क्वेयर मार्केट के पास रहते हैं। उसके बेटे को करीब 20 दिनों से बुखार और दो दिन से खांसी की शिकायत थी। मंगलवार सुबह उसकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। वह उसे जांच के लिए जिला अस्पताल में लेकर आए। यहां पर डॉक्टरों ने उसे इमरजेंसी वार्ड में दाखिल कर लिया। कुछ देर बाद उसके बेटे ने तोड़ दिया।
जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से संदिग्ध युवक व बच्चे के शव को अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में भेजने के लिए डॉ. विनोद तरार, डॉ. राजीव जौहर, पीपीसी में कार्यरत फार्मासिस्ट रमेश कुमार को सौंपी गई है।

शवों अग्रोहा मेडिकल कॉलेज के पोस्टमार्टम हाउस में रखवाया गया है। यदि दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उनका अंतिम संस्कार स्वास्थ्य विभाग व नगर निगम करेगा, अन्यथा शव उनके परिजनों को सौंपे जाएंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।