जिला प्रशासन ने 23 बसों में उत्तर प्रदेश भेजे 687 प्रवासी श्रमिक–जिला प्रशासन द्वारा सभी को मास्क, सैनीटाईजर व खाने का सामान भी करवाया उपलब्ध।-
April 25th, 2020 | Post by :- | 68 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा) उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा हिदायतों की पालना के तहत शनिवार जिले में शैल्टर होम में रह रहे प्रवासी श्रमिकों को घर पहुंचाने का कार्य शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में आज अम्बाला रोड़वेज की 23 बसों के माध्यम से 687 प्रवासी श्रमिक जोकि उत्तर प्रदेश से सम्बन्धित है उन्हें उनके जिले के लिए रवाना करने का कार्य किया। इस कार्य के लिए नगर निगम के आयुक्त पार्थ गुप्ता को जिम्मेवारी सौंपी गई है तथा इस कार्य के तहत वह पूरी जिम्मेवारी के साथ कार्य कर रहे हैं।
डीसी अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि अम्बाला जिले में 21 शैल्टर होम में प्रवासी श्रमिक पिछले एक माह से रह रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा उनके रहन-सहन की पूरी व्यवस्था की गई थी। सरकार की हिदायतों के अनुसार उत्तर प्रदेश से सम्बन्धित जितने भी प्रवासी श्रमिक जिला के शैल्टर होम में रह रहे थे उन्हें आज पूरी व्यवस्था के साथ भेजने का काम किया गया है। जिला प्रशासन द्वारा इन श्रमिकों को मास्क, सैनीटाईजर, खाने के पैकेट, बिस्कुट, फल व पानी की बोतल भी उपलब्ध करवाई गई ताकि रास्ते में उन्हें किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। प्रत्येक बस में बकायदा पुलिस का एक कर्मचारी भी इनके साथ भेजा गया है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक बस में बस ड्राईवर, कंडैक्टर के साथ-साथ पुलिस कर्मचारी व एक अन्य कर्मचारी शामिल है। प्रशासन ने इन श्रमिकों को सकुशल भेजने की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए उनके स्वास्थ्य की जांच भी की गई है। उपायुक्त ने यह भी बताया कि प्रशासनिक अधिकारियों ने बेहतर समन्वय के साथ इन श्रमिकों को भेजने का कार्य किया है और आगे भी जैसे ही सरकार की हिदायतें आती हैं अन्य राज्यों में भी इन्हें भेजने का काम किया जायेगा।
प्रवासी श्रमिक फिरोजाबाद निवासी सोविन्द्र, नर्सिंग पाल ने बताया कि पिछले एक माह से राधा स्वामी सत्संग शैल्टर होम में रह रहे थे। जिला प्रशासन ने उनके लिए बेहतर व्यवस्था की थी जिसके लिए वे उनके आभारी हैं। सरकार द्वारा आज उन्हें उनके घर भेजने का जो कार्य किया है वह उसके लिए धन्यवाद करते हैं। प्रशासन द्वारा उन्हें रास्ते में किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो इसके लिए उन्हें भोजन की व्यवस्था के साथ-साथ फल व पानी भी उपलब्ध करवाया है। साथ ही सैनीटाईजर व मास्क भी दिये हैं। इसी प्रकार प्रवासी श्रमिक जुनेब, वकील, मुनीष, मोहम्मद सहारनपुर निवासी ने बताया कि आज उन्हें बहुत खुशी हो रही है वे अपने घर जा रहे हैं। प्रशासन ने उन्हें अपना परिवार मानते हुए पिछले एक माह से उन्हें बेहतर सुविधा दी, चिकित्सा का भी ध्यान रखा जिसके लिए वे उनका दिल से आभार व्यक्त करते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि आज प्रशासन द्वारा उन्हें घर भेजने की जो व्यवस्था की है उसका भी वे धन्यवाद करते हैं। मन में काफी खुशी है कि वे सकुशल अपने घर जा रहे हैं।
बॉक्स:- नगर निगम के आयुक्त पार्थ गुप्ता ने बताया कि श्रमिकों को बेहतर व्यवस्था के साथ उनके घर के लिए रवाना किया गया है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के जो श्रमिक यहां पर शैल्टर होम में रह रहे थे उन्हें भेजने का काम किया गया है। उन्होंने बताया कि इन जिलों के तहत आगरा के लिए 22 श्रमिक, अलीगढ़ के लिए 52, अमरोहा के लिए 12, भगपत के लिए एक, बडौण के लिए 147, बुलंदशहर के लिए 36, फिरोजाबाद के लिए 27, शामली के लिए 8, हथरस के लिए 12, कसगंज के लिए 45, मथुरा के लिए 21, मीरूत के लिए 49, मुरादाबाद के लिए 63, रामपुर के लिए 67, सहारनपुर के लिए 125 प्रवासी श्रमिक शामिल हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।