कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक व्यक्ति को मास्क पहनना अनिवार्य किया
April 24th, 2020 | Post by :- | 64 Views

पंचकूला ,24 अप्रैल  ( विजय) – कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक व्यक्ति को मास्क पहनना अनिवार्यकोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रत्येक व्यक्ति को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। सभी लोगों को मास्क मिलें इसके लिए जिला की रायपुररानी, पंचकूला सैक्टर 14 व पिंजौर में बिटना की औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्रों में बड़े स्तर पर मास्क बनाने का कार्य शुरू कर दिया गया है। इसके अलावा आजिविका मिशन के तहत भी स्वयं सहायता समूहों द्वारा मास्क बनाए जा रहे है।
पंचकूला की तीन औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्रों में लोगों की सुरक्षा के लिए कपड़े के मास्क बनाकर उपलब्ध करवाए जा रहे है। यह नो प्रोफिट व नो लाॅस पर बहुत ही कम कीमत पर उपलब्ध करवाए जा रहे है। सरकार के निर्देश पर इन औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्रों पर मास्क बनाने के लिए सोशल डिस्टेंस का विशेष ध्यान रखा जा रहा है तथा प्रत्येक केन्द्र पर सेनीटाईजर की भी उचित व्यवस्था की गई है। इन आईटीआई में लगभग 15 हजार मास्क बनाकर जिला प्रशासन को उपलब्ध करवाए जाने है। इसके अलावा बैंकर्स की ओर से भी उनके पास डिमाण्ड आई है उसे भी पूरा करने में जुटे हुए है। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में बने हुए मास्क का उपयोग सरकारी कार्यालयों में भी किया जा रहा है।
औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान की प्राचार्य बलविन्द्र का कहना है कि जिला की इन आईटीआई को पूर्ण रूप से सेनीटाईज करके मास्क बनाने का कार्य 13 अप्रैल से शुरू किया गया। रायपुररानी में प्रतिदिन लगभग 500, पिंजौर के बिटना आईटीआई में लगभग 400 व पंचकूला सैक्टर 14 की आईटीआई में लगभग 600 कपड़े के मास्क हर रोज बनाए जा रहे है। इस प्रकार जिला की तीनों आइटीआई में लगभग 1400-1500 कपड़े के मास्क रोजाना बनाकर जिला प्रशासन को उपलब्ध करवाए है। लगभग 15-16 हजार मास्क बनाने का 30 अप्रैल तक लक्ष्य रखा हुआ है। उन्होंने बताया कि 24 अप्रैल तक कपड़े के बने हुए मास्क केवल 8 रुपए में उपलब्ध करवाए लेकिन अब रेट रिवाईज होकर आए हैं। अब उन्हें 10 रुपए प्रति मास्क मिलेंगें। इसमें कपड़ा, धागा व रबड़ आदि संस्थान की ओर से प्रयोग किया जा रहा है।
कपड़े के बनाए गए मास्क चिकित्सक विभाग की टीम ने भी वेरिफाई कर लिया है और सुरक्षा के माध्यम से ठीक पाए गए है। आईटीआई में कटाई सिलाई एवं स्काॅट कम्प्यूटर एड एम्ब्राईडरी ट्रेड के विद्यार्थियों की टीमें मास्क बनाने का कार्य कर रही है। ग्रुप इंचार्ज प्रोमिला शर्मा एवं अनुदेशक प्रवीन के माध्यम से मास्क बनाने का कार्य बड़ी ही लग्न के साथ किया जा रहा है।
उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि कोविड-19 के तहत सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों की पालना में सभी लोगों को मास्क पहनकर बाहर निकलना है। सभी व्यक्तियों को मास्क मिलें इसके लिए जिला की तीन आईटीआई में मास्क बनाने का कार्य किया जा रहा है। साधारण कपड़े में यह मास्क लोगों को बहुत ही अच्छा लगा है और बहुत कम रेट पर उपलब्ध करवाया जा रहा है। लाॅकडाउन के दौरान जरूरतमंद महिलाओं एवं आईटीआई के विद्यार्थियों को रोजगार के अवसर मिल रहे है और जिला के लोगों को मास्क मिल रहे है। यह एक बहुत ही सराहनीय कार्य है। इसमें आईटीआई के प्राचार्य व अनुदेशक बधाई के पात्र हैं जिन्होंने इस कार्य को बखुबी अंजाम दिया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।