महिला एवं बाल विकास विभाग हरियाणा द्वारा प्रदेश भर के बाल संरक्षण संस्थाओं की सदस्यों के लिए किया जा रहा है ऑनलाईन आयोजन।
April 22nd, 2020 | Post by :- | 54 Views

करनाल,(रजत शर्मा)। महिला एवं बाल विकास विभाग के अन्तर्गत समेकित बाल संरक्षण स्कीम के तहत करनाल जिले में 6 बाल देख-रेख संस्थाएं कार्यरत है।

कोविड-19 के खिलाफ जंग में महिला एवं बाल विकास विभाग हरियाणा ने प्रदेश भर के बाल संरक्षण संस्थाओं की सदस्यों के लिए उक्त विषय के अन्र्तगत पेंटिंग, निबंध, लेखन, स्लोग्र व कविता लेखन का ऑनलाईन आयोजन किया जा रहा है।

इसमें करनाल जिले की सभी बाल संरक्षण संस्थाओं के 103 बच्चों द्वारा भाग लिया गया। इनमें प्लेस ऑफ सेफ्टी के 7 किशोर, एमडीडी बाल भवन के 38, श्रद्धाननद के 15, हरियाणा राज्य बाल भवन मधुबन के 25, निरीक्षण गृह की 2, नारी निकेतन की 8 तथा निर्मल धाम के 8 बच्चों द्वारा भाग लिया गया।

यह ऑनलाई प्रतियोगिता जिला कार्यक्रम अधिकारी राज बाला के नेतृत्व में गठित कमेटी के सदस्यों जिला बाल संरक्षण अधिकारी रीना फौगाट तथा संरक्षण अधिकारी संस्थागत सुमन द्वारा किया गया। इस आयोजन में रूचि एडीईओ का भी विशेष सहयोग रहा।

प्रतियोगिता के लिए बच्चों की कई श्रेणियां बनाई गई है। इनमें 6 से 10 वर्ष, 11 से 15 वर्ष तथा 16 से 18 वर्ष की आयु वर्ग में विभाजित कर प्रतियोगिता कराई जा रही है। यह प्रतियोगिता सोशल डिस्टेंश व सुरक्षा नियमों की पालना में करवाई गई।

जिला स्तर पर प्रतियोगिताओं में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले बच्चों के नाम राज्य स्तर पर भेजे जाएगें, फिर राज्य स्तर पर ऑन लाईन प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। राज्य स्तर पर विजेताओं को नगद पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

प्रत्येक कैटेगरी के प्रथम पुरस्कार विजेता को 5 हजार रुपये, द्वितीय को 2 हजार रुपये तथा तृतीय को 1100 रुपये का नगद पुरस्कार दिया जाएगा और साथ ही सांत्वना पुरस्कार के रूप में 500 रुपये की पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।