अमरीकी प्रांत का चीन पर मुक़दमा लेकिन क्या चीन को डरना चाहिए?
April 22nd, 2020 | Post by :- | 113 Views

अमरीका के प्रांत मिज़ूरी ने कोरोना वायरस को लेकर चीन की सरकार के ख़िलाफ़ एक सिविल मुक़दमा दायर किया है. यह मुक़दमा ऐसे समय में किया गया है जब अमरीका कोरोना महामारी को लेकर चीन पर लगातार उंगली उठा रहा है.

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने महामारी के शुरुआती दिनों में तो चीन की इस बात को लेकर तारीफ़ की थी कि उसने अच्छे से इस महामारी को संभाला लेकिन बाद में जब अमरीका में महामारी का प्रकोप बढ़ा तो उन्होंने चीन पर उंगली उठाते हुए कहा कि हो सकता है कि इस महामारी के लिए चीन ही ज़िम्मेदार हो.

इसी साल नवंबर में अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं. राजनीतिक जानकारों का मानना है कि मिज़ूरी द्वारा दायर किया गया यह मुक़दमा और इसके साथ ही दूसरी अमरीकी कंपनियों द्वारा दायर किये गए मुक़दमे, हो सकता है कि ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी की सरकार के अंत का कारण बनें.

यूनिवर्सिटी ऑफ़ शिकागो में में इंटरनेशनल लॉ के प्रोफ़ेसर टॉम गिन्सबर्ग ने न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स को दिए एक साक्षात्कार में कहा “हम देख रहे हैं कि बहुत सारे लोग अमरीकी सरकार की अपनी ख़ामियों को ढकने के लिए चीन के मुद्दे पर फ़ोकस कर कर रहे हैं.”चीन ख़ुद भी इस तरह के मुक़दमों से कुछ डरा हुआ होगा. विदेशी सरकारें अमरीका की अदालतों में मुक़दमों से सुरक्षित हैं और अगर अमरीका चीन के ख़िलाफ़ दावा करता है तो उसे ऐसा अंतरराष्ट्रीय मंच पर करना होगा, जहां चीन के पास भी उसे जवाब देने का पूरा अधिकार होगा.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।