कोरोना वायरस: बिना लक्षण वाला कोरोना भारत के लिए कितना ख़तरनाक ?
April 22nd, 2020 | Post by :- | 88 Views

दिल्ली में 20 अप्रैल से लॉकडाउन 2 में मिलने वाली छूट, फ़िलहाल नहीं मिल रही है. इसके पीछे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कई कारण गिनाए हैं. उनमें से एक है – दिल्ली में बिना लक्षण वाले कोरोना मरीज़ों का मिलना.

जी हां, आपने सही पढ़ा. बिना लक्षण वाले कोरोना मरीज़. ये वो मरीज़ हैं जिनमें कोरोना का कोई लक्षण नहीं होता फिर भी ये कोरोना पॉज़िटिव होते हैं.

रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ऐसे मरीज़ों ने उनकी चिंता और ज़्यादा बढ़ा दी है. प्रेस कॉंफ्रेंस में संवाददाताओं से बात करते हुए उन्होंने कहा, “दिल्ली ने कोरना टेस्ट ज़्यादा करना शुरू किया है. एक दिन में हुए 736 टेस्ट रिपोर्ट में से 186 लोग कोरोना पॉज़िटिव निकले. ये सभी ‘एसिम्प्टोमैटिक’ मामले हैं यानी इनमें कोरोना के कोई लक्षण मौजूद नहीं थे. किसी को बुख़ार, खासी, सांस की शिकायत नहीं थी. उनको पता ही नहीं था कि वो कोरोना लेकर घूम रहे हैं. ये और भी ख़तरनाक हैं. कोरोना फैल चुका है और किसी को पता भी नहीं चलता कि वो कोरोना के शिकार हो चुके हैं.”

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।