हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने जिला प्रशासन को 400 पैकेट राशन दिया
April 21st, 2020 | Post by :- | 154 Views

पंचकूला , 21 अप्रैल ( विजय) – सर्वोदय विकास परिषद पंचकूला की ओर से हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने जिला प्रशासन को 400 पैकेट सूखा राशन दिया। यह राशन प्रशासन की ओर जिला बाल कल्याण अधिकारी भगत सिंह को सौंपा।सर्वोदय विकास परिषद हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष के सरंक्षण में लगातार 5 वर्षो से सामाजिक व भलाई के कार्य कर रही है। कमलस्वरूप अवस्थी इस परिषद के प्रधान के रूप में कार्य रहे है। राशन बांटते हुए श्री गुप्ता कोरोना संक्रमण के चलते लोगों को यह संदेश दिया कि वे सोशल डिस्टेंस का पालन करें और राशन लेने आए लोगों के सेनीटाईजर से हाथ धुलवाकर वितरित करें।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि जिला प्रशासन को दिया गया सूखा राशन फिरोजपुर सैक्टर 19 के लोगों को बांटा जाए। इसके लिए प्रशासन की ओर से सर्वे किया गया है और नोडल अधिकारी लगाया गया है। इस राशन में 10 किलोग्राम आटा, सरसों का तेल की बोतल, एक किलोग्राम चना दाल, एक किलोग्राम नमक, चाय, हल्दी, मिर्च आदि शामिल है। उन्होंने कहा कि सर्वोदय विकास परिषद लाॅकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों की सेवा करने के लिए आगे आई है। इसके लिए परिषद के पदाधिकारियों का उन्होंने आभार जताया।
विधानसभा ने पंचकूला के लोगों से अपील की है कि वे कोरोना संक्रमण के चलते लाॅकडाउन का पूरी तरह से पालन करें और बेवजह इधर उधर न घूमें। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही कोरोना को रोकने की इस ल़ड़ाई में हम सफल हो रहे हैं। मुझे आशा है कि हम यह लड़ाई अवश्य जीतेंगें। उन्होंने स्वंय सेवी संस्थाओं व सामाजिक व्यक्तियों से भी अनुरोध किया है कि वे सकंट की इस घड़ी जिला प्रशासन को सूखा राशन देने में सहयोग करें ताकि जिला में कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे। इसमें सरकार भी अपने स्तर पर पूरा सहयोग कर रही है लेकिन कोई भी सामाजिक कार्य जनसहयोग के बिना पूरा नहीं किया जा सकता। इसलिए सम्पन्न लोगों एवं संस्थाओं को भलाई के इस कार्य में आगे आना चाहिए।
इस अवसर पर मेंबर हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमिशनर नीलम अवस्थी, भाजपा जिला प्रधान दीपक शर्मा, जिला महामंत्री हरेन्द्र मलिक, परिषद के उपाध्यक्ष सतपाल भारद्वाज, महासचिव राजेन्द्र नुनीवाल, सहसचिव राकेश अग्रवाल, अन्नु आहूजा, आनन्द प्रकाश गोयल व प्यारेलाल सहित कई पदाधिकारी व पार्टी पदाधिकारी भी मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।