गेहूं की खरीद के लिए किसानों को मुश्किल ना आए किसान नेताओँ ने नायब तहसीलदार तरसिक्का को दिया मांग पत्र ।
April 20th, 2020 | Post by :- | 169 Views

गेंहू की खरीद कर लिए किसानों को कोई मुश्किल ना आए किसान संगर्ष कमेटी द्वारा नायब तहसीलदार तरसिक्का को दिया मांग पत्र :रणजीत सिंह कलेरबाला ।
जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
क्रोना वाइरस की म्हांमारी के कारण पहले ही कर्ज़ के दबाव के नीचे आए हुए किसानों और मजदूरों का जीना मुहाल हो गया है। बेरूज़गार हो चुके वर्करों को सरकार 10 हज़ार रुपये प्रति माह दे। ।गेंहू की खरीद में कोई मुश्किल आई तो किसान मजदूर सँघर्ष कमेटी द्वारा 28 अप्रैल से 30 अप्रैल तक गांव स्तर पर रोष प्रदर्शन करेंगे ।उन्होंने ने जानकारी देते हुए बताया कि किसान मजदूर सँघर्ष कमेटी के जिला अमृतसर के सीनियर मीत प्रधान रणजीत सिंह कलेरबाला और मेहता ज़ोन के सचिव सुखदेव सिंह चाटीविंड की अध्यक्षता में नायब तहसीलदार तरसिक्का को मांग पत्र दिया गया कि गेहूं के खरीद प्रबन्ध अच्छे तरीके से चलाने और गेहू की अदायगी 48 घण्टे के अंदर और जे फॉर्म तुरंत दिया जाए ।सरकार स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू कर खरचो समेत 50%मुनाफा जोड़कर दिया जाए। गेहू धान समेत 23 फसलों के भाव 2 सी की धारा मुताबिक घोषित किये जायें । कृषि में काम करते 50 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले किसानों ,मजदूरों के समाजिक सुरक्षा कानून के तहत 10 हजार रुपये पेंशन दी जाए। मंत्रियों और विधायकों का अनेक पेंशन का कानून देश के खजाने ओर बड़ा आर्थिक बोझ साबित हो रहा है। निज्जी और सरकारी हसपताल की ओ पी डी व जरूरी वस्तुओं को रूटीन में चलने के लिए प्रशासन मुस्तेदी के साथ काम करे। पुलिस डॉक्टर और मंडियों में काम करने वाले वर्करों मासिक दस्ताने ,सैनेटाइज़र सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जाएं ।इस अवसर पर सरदूल सिंह तरसिक्का ,रणजीत सिंह चाटीविंड ,दलजीत सिंह कलेरबाला हाज़िर थे ।
फ़ोटो कैप्शन :,नायब तहसीलदार को किसान नेता मांग पत्र देते हुए ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।