तंग बाज़ार में इस तरह की भीड़ होना किसी खतरे से खाली नही।
April 20th, 2020 | Post by :- | 106 Views

अम्बाला (अशोक शर्मा) लॉक डाउन 2 के आज छटे दिन अम्बाला सिटी में लोगों को भीड़ देख कर लग रहा है जैसे सब कुछ नार्मल हो गया। छोटे तंग बाज़ार में इस तरह की भीड़ होना किसी खतरे से खाली नही। हालांकि जल्द ही प्रसाशसन ने सख्ती करते हुई स्तिथि को काबू किया। प्रसाशन द्वारा दी गई रियायतों को पूरी झूट समझने की जनता को गलती नहीं करनी चाहिए। कोरोना की लड़ाई में प्रसाशन पूरी तरह से मुस्ततेत है लेकिन यदि आमजन इस तरह कि उलघन्ना करता है तो निश्चित ही खतरे का एहसास फिर से घेर लेगा। अंबाला अभी तक दूसरे शहरों से काफी जागरूक रहा है सिवाय जमातियों के आ जाने से प्रसाशन को मशक्त करनी पड़ी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।