हरियाणा की मण्डियों में कल 20 अप्रैल, 20 से गेहूं की खरीद शुरू होगी
April 19th, 2020 | Post by :- | 158 Views

चण्डीगढ़, 19 अप्रैल -हरियाणा की मण्डियों में कल 20 अप्रैल, 2020 से गेहूं की खरीद शुरू हो जाएगी और किसान ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर पंजीकृत अपनी पूरी फसल एक ही बार में मण्डी में ला सकते हैं। इसके अतिरिक्त, किसान द्वारा मण्डी में फसल लाने की कोई समय सीमा निर्धारित नहीं की गई है।

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जय प्रकाश दलाल ने यह जानकारी आज मण्डियों में सरसों की खरीद प्रक्रिया का जायजा लेने के लिए भिवानी, महेन्द्रगढ़ और रेवाड़ी जिलों की विभिन्न मण्डियों का दौरा करने उपरांत दी।

उन्होंने कहा कि सरसों की खरीद का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। राज्य की 163 मण्डियों में सरसों की खरीद का कार्य 15 अप्रैल, 2020 से शुरू हो चुका है तथा गेहूं की खरीद 20 अप्रैल, 2020 से शुरू हो जाएगी, जिसके लिए मण्डियों में सभी आवश्यक प्रबंध कर लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि दुनियाभर में कोरोना वायरस से उत्पन्न हुए अभूतपूर्व संकट में भी हमारी सरकार किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदने के लिए प्रतिबद्घ है।

उन्होंने कहा कि मण्डियों में प्रतिदिन सुबह और दोपहर को 50-50 किसानों को पहले दिन एसएमएस पर संदेश भेजकर अपनी सरसों बेचने के लिए मण्डी बुलाया जाता है ताकि कोरोना वायरस के मद्देनजर मण्डियों में भीड़ न हो। उन्होंने कहा कि इसीप्रकार, गेहूं के लिए भी संबंधित किसानों को एक दिन पहले ही एसएमएस पर संदेश भेजकर उन्हें मण्डी में गेहूं बेचने के लिए बुलाया जाएगा।

कृषि मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार मण्डियों में चल रही सरसों की खरीद पर लगातार नजर रखे हुए है ताकि खरीद प्रक्रिया बिना किसी अड़चन के सुचारू रूप से चलती रहे और किसानों को मण्डियों में किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। उन्होंने किसानों से भी आग्रह किया कि वे सरसों एवं गेहूं की खरीद प्रक्रिया में सरकार को अपना पूर्ण सहयोग दें ताकि कोरोना वायरस से बने इस माहौल में फसलों की खरीद प्रक्रिया बिना किसी बाधा या असुविधा के सुचारू रूप से चलती रहे।

वहीं उन्होंने विभिन्न मण्डियों का दौरा करते हुए किसानों से आग्रह किया कि वे अपनी उपज की बिक्री के लिए मण्डियों में आते समय कोरोना वायरस से बचाव के लिए राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा सुझाए गए उपायों को अपनाएं, मास्क पहने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।