अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कमल किशोर वार्ष्णेय का किया भव्य सम्मान
April 19th, 2020 | Post by :- | 119 Views

कोलीकंला,मथुरा(राजकुमार गुप्ता )अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के प्रदेश प्रधान महासचिव अमित वार्ष्णेय के नेतृत्व में कोसीकला पहुंचकर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कमल किशोर वार्ष्णेय जी के आवास पर पहुंचकर कोराना महामारी मैं अपना विशेष योगदान गरीब एवं आश्रित लोगों को 1 माह का राशन जिसमें आटा चीनी दाल नमक सब्जी तेल आदि चीजें उपलब्ध कराकर लोगों को सहायता प्रदान की | इस प्रशंसनीय कार्य के लिए अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद ने आवास पर जाकर उनको बधाइयां दी एवं उनका पटका फूल माला पुष्प वर्षा कर सम्मान किया गया | इस कोराना महामारी में सही तरीके से अगर देखा जाए तो 4 संस्थानों द्वारा विशेष रुप से सहयोग किया गया है जिसमें पुलिस प्रशासन डॉक्टर मीडिया कर्मी सफाई कर्मी एवं समाजसेवी इसी क्रम में आज वैश्य समाज के प्रमुख समाजसेवी उनके साथ-साथ उनके आवास पर मीडिया बंधुओं का भी स्वागत किया गया | राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कमल किशोर वार्ष्णेय ने बताया ऐसे लोगों की सहायता करनी चाहिए हमें जो वाकई में निराश्रित लोग हैं जिनके यहां राशन और दो वक्त की रोटी का व्यवस्था गड़बड़ाई हुई हो ऐसे लोगों को सहायता पहुंचाने का कार्य हमारे द्वारा किया जा रहा है मैं मीडिया के माध्यम से सभी समाजसेवियों से कहना चाहूंगा आदरणीय मोदी जी द्वारा कोई भी परिवार भूखा ना सोए उस कड़ी में अपना सहयोग प्रदान करें | प्रधान महासचिव अमित वार्ष्णेय ने बताया अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद पूरे जनपद भर में नरेंद्र मोदी जी के आह्वान पर ना कोई घर भूखा रहे ना कोई परिवार भूखा सोए वैश्य एकता परिषद के माध्यम से चाय भोजन की व्यवस्था हो चाहे 1 माह का राशन की व्यवस्था हो हमारे राष्ट्रीय एवं प्रदेश पदाधिकारी इस व्यवस्था में पूर्ण रूप से लगे हुए लगभग अब तक राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कमल किशोर वार्ष्णेय जी द्वारा 400 से 500 लोगों को कोसी छाता आदि वैश्य समाज के लोगों को 1 माह का राशन उपलब्ध कराया जा रहा है जिसकी ऐसे पुनीत कार्य की प्रशंसा करते हैं | स्वागत करने वालों में प्रदेश मंत्री राजकुमार खंडेलवाल जी महानगर युवा के अध्यक्ष सुशील वार्ष्णेय जिला उपाध्यक्ष अजय कुमार वार्ष्णेय कोसीकला इकाई के अध्यक्ष मनीष अग्रवाल जिला महामंत्री ऋषि कुमार वार्ष्णेय श्यामू वार्ष्णेय आदि लोग मौजूद थे |

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।