अम्बाला में 15 सदस्यीय टीमों ने सब्जी विक्रेताओं 1153 लोगों की स्क्रीनिंग की, जिनमें से 6 लोगों के सैम्पल लिये गये हैं–उपायुक्त
April 18th, 2020 | Post by :- | 131 Views
अम्बाला: (अशोक शर्मा)
उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस से सम्बन्धित जिला में कुल 751 सैम्पल लिये जा चुके हैं, जिनमें से 637 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है तथा 106 की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। उपायुक्त ने यह भी बताया कि जिला में अभी तक 1176 विदेश से आये लोगों ने क्वारनटीन की अवधि भी पूरी कर ली है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 36 भिन्न-भिन्न टीमों द्वारा कंटेनमैंट जोन में 3886 घरों में सर्वे किया गया है तथा 16891 लोगों की स्क्रीनिंग भी की गई है, जिनमें से 3 लोगों को फ्लू लाईक सिप्टम मिले हैं। आज तक इन टीमो ने कंटेनमैंट जोन से कुल 114 सैम्पल लिए हैं, जिनमे से 103 सैम्पलों की रिपोर्ट नेगेटीव आई है तथा स्वास्थ्य विभाग की एक कर्मचारी पॉजिटिव पाई गई है। 
जिला में 96 विभिन्न मोबाईल टीमों ने आज 12458 मरीजों का चैकअप किया तथा 75 मरीजों को कोविड लाईक सिप्टम के साथ जिला के नागरिक अस्पतालों में रैफर किया गया, जिनके 13 सैम्पल भी लिये गये हैं। सिविल सर्जन को निर्देश दिये गये हैं कि ये टीमें हर एरिया को पांचवे दिन कवर करेंगी तथा 3 मई तक कार्यरत रहेंगी। 
 आज शनिवार को हारवैस्टिंग मशीनों के 107 ड्राइवर एवं हैल्परों की भी स्वास्थ्य जांच की गई है। उपायुक्त ने यह भी बताया कि प्रवासी मजदूरों का नियमित रूप से चैकअप चल रहा है एवं स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा जरूरतमंदों को नियमित औषधियां प्रदान की जा रही हैं। इस दौरान उनको मनोवैज्ञानिक एवं आयुष डाक्टर की सेवाएं भी उपलब्ध करवाई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग ने अम्बाला कैंट सब्जी मंडी में  15 सदस्यीय टीमों ने सब्जी विक्रेताओं 1153 लोगों की स्क्रीनिंग की, जिनमें से 6 लोगों के सैम्पल लिये गये हैं। जिला सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह ने बताया कि जिला में एक और पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुआ है। कंटनेमैंट जोन में कार्यरत एएनएम पॉजिटिव पाई गई है। उन्होंने यह भी बताया कि उसके सम्पर्क में आए सभी लोगों को आइसोलेट कर दिया गया है एवं सभी के सैम्पल प्लान कर लिये गये हैं। ये सैम्पल आज ही ले लिये जाएंगे तथा टैस्टिंग के लिये भेज दिए जाएंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।