पलवल जिला से राहत भरी खबर, तीन मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से हुए डिस्चार्ज : सिविल सर्जन
April 16th, 2020 | Post by :- | 95 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :- जिला के लिए राहत भरी खबर है कि कोरोना पॉजीटिव तीन मरीज रिकवर होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं। जिससे अब कोरोना से रिकवर होने वालों की संख्या चार हो चुकी है। पलवल जिला से अब तक कोरोना जांच के लिए भेजे गए 539 लोगों के सेंपल में 368 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है जबकि 139 सेंपल की रिपोर्ट अब तक पेंडिंग है।

सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पलवल जिला में अब तक कोरोना संक्रमण के 30 केस सामने आए थे स्वास्थ्य विभाग ने तत्परता दिखाते हुए इनके संपर्क में आए 541 की पहचान कर तुरंत आइसोलेशन में लिया गया ताकि जिला में कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके। स्वस्थ होने वाले मरीजों को भी 14 दिन तक घर से बाहर न निकलने की सलाह दी गई है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरूवार की सांय जारी मीडिया बुलेटिन में रिकवर होने वाले मरीजों की जानकारी दी गई है। डा. ब्रह्मदीप सिंह ने बताया कि अब तक पलवल जिला में कोरोना संक्रमण के मरीजों में अधिकतर दूसरे देश या अन्य प्रदेशों के निवासी है। जिला में कोरोना के अंदेशे को लेकर 1038 लोगों को सॢवलांस पर लिया गया था जिनमें से 113 ने 14 दिन का सॢवलांस पीरियड भी पूरा कर लिया है। वहीं अभी भी 925 लोगों को सॢवलांस पर रखा गया है।

उन्होंने बताया कि जिला में पांच व्यक्तियों को नागरिक अस्पताल पलवल के विशेष आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। कोरोना संक्रमण के मामलों के उपरांत कंटेनमेंट व बफर जोन घोषित क्षेत्रों को छोडक़र भी जिला भर में लोगों के स्वास्थ्य जांच के लिए 17 टीम गठित की गई है जोकि गांव-गांव जाकर लोगों की स्वास्थ्य जांच कर रही है।

सिविल सर्जन ने बताया कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जिलावासियों को लॉकडाउन का पालना करना चाहिए। अनावश्यक रूप से बाहर निकलने की बजाए लोगों को घरों में बने रहना चाहिए। उन्होंने बताया कि अपने खान-पान में लोगों को ऐसे खाद्य पदार्थ लेने चाहिए जिनसे शरीर की इम्यूनिटी पावर बढ़े। यह समय बुरी आदतों को भी छोडऩे के लिए सबसे उपयुक्त है। घर में रहकर नियमित योगाभ्यास व अच्छी आदतों को अपना कर शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है। उन्होंने यह भी बताया कि अपने हाथों को नियमित रूप से साबुन या हैंड सेनेटाइजर का प्रयोग कर साफ रखना चाहिए ताकि कोरोना के संक्रमण से बचा जा सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।