इंटक अध्यक्ष ने प्रेस कांफ्रेंस कर लगाया पूर्व अध्यक्ष पर कई संगीन आरोप
September 1st, 2019 | Post by :- | 463 Views

नंदराज पहाड़ के नाम पर कांग्रेस को बदनाम कर भाजपा के पक्ष में माहौल बना रहा पूर्व इंटक अध्यक्ष संजय सिंग

गैर छत्तीसगढ़ीया क्या जाने आदिवासियों की संस्कृति जो 20 सालो से मजदूरों की कर रहा दलाली युवा इंटक कांग्रेस – प्रदेशाध्यक्ष चन्द्रेश सिंह ठाकुर।

एक लाख लोग बेरोजगार नही एक लाख रोज की मजदूरी दलाली नही मिलने की दुख हैं बिहारी संजय सिंग को।

छत्तीसगढ़ीयो की चिंता होती तो रेड्डी के साथ 2007/08 मे ट्रस्ट इंटक बना उद्योगपतियो के साथ मजदूरी के नही करती दलाली।

छत्तीसगढ़ के पढे लिखे बेरोजगार साथियो को काम नही मिल पाता इनके उद्योगपतियो के साठगांठ के वजह से कोई भी श्रमिक अपने हक अधिकार की आवाज उठाते हैं उसको काम से निकाल दिया जाता हैं।

राज्य बनने के बाद से आज तक इनके दलाली की वजह से छत्तीसगढ़ में मजदूरों को आधी वेतन 12 घण्टा काम पर करना पड़ रहा काम क्यो नही उठाते आवाज।

छत्तीसगढ़ (रायपुर) अरुण कुमार पाण्डेय । भारतीय राष्ट्रीय मजदूर युवा कांग्रेस (INTUC) प्रदेशाध्यक्ष चंद्रेश सिंह ठाकुर संतोष सोनवानी, महिला इंटक प्रदेशाध्यक्ष श्रीमती सुनीता दुबे, असंगठित इंटक प्रदेशाध्यक्ष संजय तिवारी, इंटक कांग्रेस प्रदेशमहामंत्री रजनीश सेट,दंतेवाड़ा इंटक कांग्रेस जिलाध्यक्ष जगरा वेन्जाम ने रायपुर प्रेस क्लब में पत्रकार वार्ता कर कहा कि बस्तर में विधानसभा उप चुनाव की घोषणा के बाद नंदराज पहाड़ के नाम पर कांग्रेस को ट्रस्ट इंटक अध्यक्ष संजय सिंग बदनाम कर रहा इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष जी संजीवा रेड्डी भारतीय मजदूर संघ जो भाजपा के श्रमिक संघटन हैं उसमें जाने की तैयारी कर लिए है कर्नाटक विधानसभा चुनाव में विज्ञप्ति जारी कर घोषणा की गई थी जिसके वजह से कर्नाटक विधानसभा में कांग्रेस की हार हुई थी हार वही स्थिति बस्तर विधानसभा उपचुनाव में बना रहे है जिससे कांग्रेस की हार हो आदिवासीयो की वोट बीजेपी को मिले।

ट्रस्ट इंटक अध्यक्ष संजय सिंग को आदिवासी समाज की एकता और कांग्रेस के प्रति रुझान खल रहा बस्तर व छत्तीसगढ़ में संचालित खदानों उद्योगों से प्रतिदिन इसको लाखो रुपये मजदूरों की मजदूरी पर दलाली मिलती है मजदूरों को आधे वेतन और 12 घण्टा काम लिया जाता हैं पूरे बस्तर में कांग्रेस के जागरूक व जनहित पर काम करने वाले विधायक व सांसद जीत कर आये हैं जिससे भारतीय मजदूर संघ और ट्रस्ट इंटक जिसके अध्यक्ष संजय सिंग की मजदूरों की दलाली बन्द ही रही हैं यही संजय सिंग बिहारी गैर छत्तीसगढ़ीया जो 20 सालो से यहां की मजदूरों की दलाली कर अरबपति बन गए वह बताये की खुद जांजगीर चाम्पा जिला में स्थापित प्रकाश इंडस्ट्रीज लिमिटेड प्राइवेट प्लांट पर फटा पेंट टूटा चप्पल पहन कर 1995 में दिहाडी मजदूरी काम करने आया था आज उसके वेतन 25 हजार से ज्यादा नही है वह कैसे किस दलाली पर रायपुर में 5 करोड़ की घर और मर्सडीज़ – ऑडी जैसे करोड़ रुपये की गाड़ी में चलता हैं सैकड़ो ट्रेलर हाइवा की मालिक है आज कई सौ करोड़ की संपत्ति हैं क्या वह बिहार से लेकर आये है वह सम्पति यही बस्तर व छत्तीसगढ़ के मजदूरों की दलाली पर बनाये हैं जिसकी जांच होनी चाहिए।

इंटक कांग्रेस नेता ने कहा इस पर हम आदिवासीयो के साथ है नंदराज पहाड़ को खनन करने नही देंगे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल जी छःग कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम जी और बस्तर सांसद दीपक बैज जी आदिवासीयो के साथ है वह कभी भी इस पर सहमति नही दी हैं इस को लेकर इंटक कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल इंटक कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष दीपक दुबे प्रदेशमहामंत्री रजनीश सेठ युवा इंटक असंगठित इंटक प्रदेशाध्यक्ष संजू तिवारी राष्ट्रीय महासचिव युवा इंटक विक्रांत सिंह के साथ मुख्यमंत्री महोदय, कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम जी, बस्तर सांसद दीपक बैज से मिलकर ट्रस्ट इंटक अध्यक्ष संजय सिंग की शिकायत करेंगे और उनके खिलाफ कार्यवाही की मांग करते हुवे बताएंगे जो रेड्डी 2007 में केंद्र की कांग्रेस सरकार के विरोध कर सांसद भवन के घेराव किये लगातार राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ अपशब्दों की प्रयोग किये जो 2007/08 में ट्रस्ट इंटक की गठन कर यूनियन चला रहे है वह कैसे कांग्रेसी हो गए और कांग्रेस के उन नेताओं की भी शिकायत करेंगे जो इन जैसे भाजपा के और मजदूरों की दलालो को सह दे रहे हैं संजय सिंग अपने आपको इंटक कांग्रेस अध्यक्ष होने की प्रचार प्रसार कर कांग्रेस के नाम पर दलाली चन्दा उगाही कर छत्तीसगढ़ीयो की शोषण 20 वर्षो से कर रहा है छत्तीसगढ़ के बाहर के मजदूरों को स्थानीय उद्योगो में पैसा लेकर काम दिलवाता हैं जिससे छत्तीसगढ़ के पढे लिखे बेरोजगार साथियो को काम नही मिल पाता इनके उद्योगपतियो के साठगांठ के वजह से कोई भी श्रमिक अपने हक अधिकार की आवाज उठाते हैं उसको काम से निकाल दिया जाता हैं यह परदेसीया छग में मजदूर विरोधी लगातार काम करते आ रहे है जिसके वजह से मजदूरों श्रमिको कर्मचारियों की वोट कांग्रेस के पक्ष में नही जाता था।

इंटक कांग्रेस नेता ने सर्व आदिवासी समाज को शांति बनाए रखने की अपील करते हुवे कहा कि इंटक कांग्रेस व कांग्रेस पार्टी आपके साथ है बस्तर वासियों आदिवासी भाइयो की अहित में कोई भी फैसला कांग्रेस नही लेगी संजय सिंग ट्रस्ट इंटक (एनजीओ) के अध्यक्ष है कांग्रेस इंटक की नही उसके ब्यान समर्थ कांग्रेस इंटक की नही है पत्रकार वार्ता में रायपुर इंटक कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवानन्द वर्मा,महिला इंटक अध्यक्ष गिरजा बंजारी कोरबा महिला इंटक अध्यक्ष कुसुम सोनी कोरबा इंटक अध्यक्ष अशोक जायसवाल बिलासपुर इंटक अध्यक्ष द्वय प्रदीप पांडेय अजय काले युवा इंटक अध्यक्ष असद खान भाटापारा बलौदाबाजार इंटक अध्यक्ष सत्यजीत शेंडे जांजगीर चाम्पा इंटक जिलाध्यक्ष मारुति उपाध्याय रायगढ़ इंटक जिलाध्यक्ष आदिल सिद्दीकी सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

* “लोकहित एक्सप्रैस” में पत्रकार बनने के लिए सम्पर्क करें।

 

 

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।