नोलटा से कांबली परवाणु सड़क का शिलान्यास विधायक लतिका शर्मा जी ने किया।
September 1st, 2019 | Post by :- | 106 Views

पिंजौर, (चन्द्रकान्त शर्मा)

पिंजौर रायतन क्षेत्र में पहली बार एक ऐसा रोड़ बनने
जा रहा है। जिसका सीधा सम्पर्क हिमाचल प्रदेश के परवाणु से होगा। लम्बे अरसे से रायतन क्षेत्र के करीब 38 गांवो के हजारो लोगो की सरकार से मांग थी, कि उन्हे परवाणु के साथ जोडऩे के लिए सम्पर्क मार्ग दिया जाए।

रविवार को रायतन क्षेत्र वासियो की इस मांग को पूरा करने की कार्यवाई शुरू हो गई। कालका विधायक लतिका शर्मा ने रायतन क्षेत्र को सीधे परवाणु के साथ जोडऩे के लिए नौल्टा-जैथल से कामली रोड़ का शिलान्यास किया

विधायक शर्मा ने बताया कि चुनाव से पहले जब वो रायतन क्षेत्र में लोगो से वोट मांगने आई थी उस समय ग्रामिणो ने इस मांग को उनसे अवगत करवाया था उसके बाद से ही उन्होने इस पर काम शुरू कर दिया था। काम में देरी इसलिए हुई क्योंकि फोरेस्ट से अनुमति उधर हिमाचल प्रदेश सरकार से भी इसकी काफी कार्यवाई करनी पड़ी उसके बाद जाकर इसको हरी झंडी मिली। इस मौके पर

विधायक के साथ पीडवल्युडी एसडीओ ओएन गुप्ता, भाजपा जिला उपप्रधान संजीव कौशल, मण्डल अध्यक्ष सुनील धीमान,शिवालिक विकास बोर्ड सदस्य हर्ष कुमार,प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य युवा मोर्चा आदित्य शर्मा, मण्डल अध्यक्ष युवा मोर्चा सोनू, महामंत्री गिरीश, शिवा, महापचायंत अध्यक्ष एंव सरपंच हरदेव सिंह, सरपंच प्रेमचंद, नरेश कुमार, अशोक, चरणजीत और कृष्णलाल कटारिया आदि समेत कई लोग मौजूद थे। पीडवल्युडी द्वारा रायतन क्षेत्र से परवाणु तक 2.2 किलोमीटर सडक़ कानिमार्ण करीब 1 करोड़ 39 लाख 57 हजार रू0 की लागत से होगा। विभाग के एसडीओ गुप्ता ने बताया कि जो जैंसी इसका काम करेगी उनके मुताबिक इसे
बनाने में करीब 20 दिन लगेगें। गुप्ता ने बताया कि यह रोड़ करीब 11 फीट चौड़ी बनेगी जिसमें फेवर ब्लाक लगेेगें।
इस रोड़ के बनने से रायतन क्षेत्र के 38 गांवो समेत मोरनी क्षेत्र को भी परवाणु जाने के लिए करीब 15 से 20 किलोमीटर का सफर कम पड़ेगा, इससे जहां समय बचेगा वहीं वाहनो का तेल भी बचेगा। महापचायंत के अध्यक्ष हरदेव सिंह ने बताया कि गांव जबरोट, नौल्टा, डखरोग, जनौली, टोरन, भवाना, केदारपुर आदि गांवो के करीब 250 से ज्यादा ऐसे लोग है जो परवाणु नौकरी करने जाते है उनके लिए यह रास्ता मील का पत्थर साबित होगा इसके अलावा रायतन क्षेत्र के करीब 70 प्रतिशत से ज्यादा परिवारो की रिश्तेदारी हिमाचल प्रदेश के परवाणु, सोलन, कसौली, शिमला व आसपास क्षेत्र में है उन्हे भी वहाँ जाने में आसानी होगी

* “लोकहित एक्सप्रैस” में पत्रकार बनने के लिए सम्पर्क करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।