चिकित्सकों ने शेल्टर होम्स में रहने वाले 850 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की
April 5th, 2020 | Post by :- | 189 Views

सोनीपत, ( पवन राजपूत )   :   कोविड-19 की रोकथाम के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के बीच रविवार को जिला स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने शेल्टर होम्स में रह रहे 850 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की।

उपायुक्त डा. अंशज सिंह ने यह जानकारी देते हुए कहा कि शेल्टर होम में रह रहे प्रवासी श्रमिकों का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। प्रवासियों के भोजन का पूर्ण प्रबंध किया गया है और नियमित रूप से उनके स्वास्थ्य की जांच की जा रही है।

उपायुक्त डा. अंशज सिंह के निर्देशानुसार जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार शेल्टर होम में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रही है। सिविल सर्जन डा. बीके राजौरा व नोडल अधिकारी डा. दिनेश छिल्लर ने इस संदर्भ में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि टीम नंबर-188 की डा. अल्पना ने आईआईटीएम तथा सरस्वती स्कूल मुरथल में बनाये गये दोनों शेल्टर होम्स में 100 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। टीम नंबर- 195 के डा. दीपक ने राजकीय विद्यालय हसनपुर में बनाये गये शेल्टर होम में 64 लोगों का स्वास्थ्य जांचा।

टीम नंबर-187 में शामिल डा. पंकज सांगवान ने सत्यम स्कूल सोनीपत में बनाये शेल्टर होम में 113 लोगों का स्वास्थ्य जांचा। टीम नंबर-192 में सम्मिलित डा. सोनिका व राजकुमार ने खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय  राई में बनाये गये शेल्टर होम में 331 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। टीम नंबर-194 के डा. चक्रवर्ती ने ओम पब्लिक स्कूल गोहाना में 15 व्यक्तियों, टीम नंबर-191 के डा. श्रीभगवान व डा. कविता ने खरखौदा के राजकीय महाविद्यालय पीपली में बनाये शेल्टर होम में 44 तथा टीम नंबर-195 के डा. दीपक ने सीसीएएस जैन व. मा. विद्यालय गन्नौर के शेल्टर होम में 135 और टीम नंबर-196 में शामिल डा. प्रवीण ने बाल भवन स्कूल गन्नौर में स्थापित शेल्टर होम में 63 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।