सामाजिक संगठनों के पैदल ही अपने घरों को लौट रहे मजदूरों व उनके परिवार को खाने-पीने की वस्तुएं की वितरित |

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट):- होडल के स्थानीय सामाजिक संगठनों के लोगों ने शनिवार को लॉकडाउन के कारण सैकडों किलोमीटर की दूरी तय कर पैदल ही अपने घरों को लौट रहे मजदूरों व उनके परिवार को खाने-पीने की वस्तुएं वितरित कर पुण्य कराया। संगठनों के पदाधिकारी गाडियों में खाने के पैकेट व पीने का पानी लेकर पैदल आ रहे लोगों के पास पहुंच गए और उन्हें वह सामग्री वितरित कर उनकी भूख व प्यास बुझाई।

शनिवार को शहर के सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने नेशनल हाइवे मुंडकटी थाने से होडल करमन बॉर्डर तक पैदल आने वाले हजारों मजदूरों व उनके परिवार को खाने-पीने की वस्तुएं वितरित की। पदाधिकारियों ने ट्रक, बस व अन्य वाहनों में बैठकर अपने गंत्वय स्थानों तक पहुंचने वाले लोगों को भी खाने-पीने की वस्तुएं उपलब्ध कराई।

श्री खाटू श्याम सखा मंडल के प्रधान महेश चंद सिंगला, लखन खंडेलवाल, गौरक्षा दल के प्रधान भगत ङ्क्षसह रावत, सुधीर भुलवाना, सुनील गोयल, मनेष कुमार, डोरीलाल गोला, पिंटू जैन, जैन समाज के प्रधान मुकेश जैन, नीलू खन्ना, लक्खी जैन, पूर्व चेयरमैन शिवकुमार के अलावा अन्य संगठनों के पदाधिकारियों का कहना है कि कोरोना का असली मार इन मजदूरों को झेलनी पड रही है।

उन्होंने कहा कि देशभर में लॉकडाउन के चलते अपने घरों तक पहुंचने के लिए मजदूर तपके के लोगों को अपने परिवार के साथ पैदल की सैकडों किलोमीटर की दूरी तय कर यहां तक पहुंचे है और आगे भी पैदल ही सैकडों किलोमीटर की दूर तक करके अपने घरों तक पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वार चलाई गई बसों से इन मजदूरों को काफी राहत मिली है, लेकिन फिर भी मजदूर अपने घरों तक पहुंचने के लिए काफी मुश्किलें झेल रहा है। संगठनों के पदाधिकारियों ने इन मजदूरों को खाने-पीने की वस्तुएं वितरित कर इनका साहस बढाया।