जन सम्पर्क विभाग के अधिकारी पूरी ताकत के साथ कर रहे कोरोना वायरस की सावधानियों के प्रति जागरुक : मीणा

कुरुक्षेत्र, ( सुरेश पाल सिंहमार )   ।   सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग हरियाणा के निदेशक पीसी मीणा ने कहा कि जन सम्पर्क विभाग के अधिकारी व कर्मचारी पूरी ताकत के साथ कोरोना वायरस से सावधान रहने के प्रति लोगों को जागरुक कर रहे है। इस विभाग के अधिकारी, कर्मचारी गांव-गांव और शहरों के वार्डो में आमजन को लॉकडाउन के दौरान 14 अप्रैल तक घरों में रहने और सावधानियां बरतने की तमाम जानकारियां मुनादी के जरिए दे रहे है। इतना ही नहीं लोगों को खाने-पीने, दवाईयों और अन्य आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता घर पर ही हो इस बाबत दुकानदारों के नम्बर और अन्य माध्यमों की जानकारी आमजन तक पहुंचा रहे है।

निदेशक पीसी मीणा शुक्रवार को देर सायं चंडीगढ़ से वीडिया कान्फ्रेंसिंग के जरिए जिलों के विभागीय अधिकारियों से बातचीत कर रहे थे। इससे पहले निदेशक पीसी मीणा, अतिरिक्त निदेशक डा. कुलदीप सैनी ने सभी जिलों के डीआईपीआरओ से कोरोना वायरस के प्रति सावधानियां बरतने के प्रति चलाए गए जागरुकता अभियान और अन्य विषयों को लेकर फीडबैक रिपोर्ट हासिल की है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित किया जा चुका है, इसके उपरांत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 14 अप्रैल तक लॉकडाउन करने के आदेश भी जारी किए है। इस लॉकडाउन के दौरान नागरिकों को अपने-अपने घरों में ही रहना होगा ताकि कोरोना वायरस की चैन को तोड़ा जा सके।

उन्होंने कहा कि लोगों को सब्जी, दुध, दवाई, राशन और अन्य पदार्थो की उपलब्धता घर पर ही हो इसके लिए सभी जिलों के प्रशासिनक अधिकारी योजनाबद्घ तरीके से काम कर रहे है। इस समय कोरोना वायरस से लडऩे के लिए सरकार की तरफ से स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग, प्रशासनिक अधिकारी और जन सम्पर्क विभाग अग्रिम पंक्ति में रहकर काम कर रहा है। ऐसे मौके पर लोगों को दवाईयों के लिए दवाई, सब्जी, दुध, राशन व अन्य जरुरी सामग्री विक्रेताओं के दूरभाष नम्बर लोगों तक पहुंचाने के लिए जन सम्पर्क विभाग के अधिकारी तमाम माध्यमों का प्रयोग करके प्रचार-प्रसार करेंगे ताकि लोगों तक इस प्रकार की जानकारी पहुंच सके। इसके अलावा प्रशासन द्वारा समय-समय पर जारी आदेशों को भी मीडिया और प्रचार के अन्य माध्यमों से लोगों तक पहुंचाने का काम जन सम्पर्क विभाग द्वारा किया जाएगा।

निदेशक ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लडऩा एक बहुत बड़ी चुनौती है। इस चुनौती को जन सम्पर्क विभाग स्वीकार करके काम करेगा और आमजन की सेवा करने में जरा सी भी कोताही नहीं बरतेगा। इस विभाग के अधिकारी पल-पल की सूचना लोगों तक पहुंचाएंगे तथा लोगों और सरकार व प्रशासन के बीच एक महत्वपूर्ण कड़ी का दायित्व भी निभाएंगे ताकि सूचनाओं का आदान प्रदान करके लोगों को हर सम्भव सहायता प्रशासन की तरफ से निरंतर मिलती रहे। उन्होंने कहा कि स्लम बस्तियों और अन्य जरुरतमंद लोगों तक खाद्य सामग्री पहुंचे इसकी भी जानकारी प्रशासन और सरकार तक पहुंचाने के दायित्व को पूरा किया जाए ताकि कोई भी व्यक्ति भूखा ना रहे।

अतिरिक्त निदेशक डा. कुलदीप सैनी ने कहा कि सभी अधिकारी रोजाना योजनाबद्घ तरीके से काम करेंगे और प्रशासन के साथ कदम से कदम मिलाकर चलेंगे ताकि आम व्यक्ति तक प्रशासन की तमाम सूचनाएं सहजता से पहुंच सके। इस दौरान सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को अपनी सुरक्षा के लिए मास्क, सेनिटाईजर और गलब्स आदि का भी प्रयोग करना चाहिए।