पर्युषण हर्षोल्लास से मनाया भगवान महावीर जन्म वांचन महोत्सव माता त्रिशला के 14 स्वप्नो के बोले गये चढावें, निकला वरघोडा 
August 31st, 2019 | Post by :- | 139 Views

बांसवाडा(अरूण जोशी)

कुशलगढ़-पर्युषण महापर्व के पाॅचवे दिन यहां केशरीयानाथ जैन मंदिर में मूर्ति पूजक संघ द्वारा भगवान महावीर जन्म वांचन महोत्सव हर्षोल्लास से मनाया गया। समारोह में भगवान की माता त्रिशला द्वारा देखे गएं चैदह स्वप्नो के चढावे बोले गएं जिसमें क्रमशः पहले स्वप्न उज्जवल गजवर व दूसरें स्वप्न वृषभ का लाभ,अनिल कुमार सुनिल कुमार धारीवाल परिवार ने, सिंह मुकेश कुमार इन्दरमल लुणावत, लक्ष्मीजी प्रकाश चन्द घेवरलाल लुणावत, अनुपम फूलमाल राकेश खेमसरा, शीतल चन्द्रमा प्रकाश चन्द्र चण्डालीया,उगता सूर्य जयंतिलाल चण्डालीया, इन्द्र ध्वजा पारसमल मेहता,पूर्ण कलश जंयतिलाल चण्डालीया,पदम सरोवर भरत कोठारी, क्षीर समुद्र प्रकाश चन्द्र सोलंकी, देव विमान कमलकान्त मेहता,, अनुपम रत्न सोभाग्यमल लुणावत व निर्धुम अग्नि का लाभ निलेश कुमार प्रकाश चन्द सोलंकी, तथा जन्म वाचन के बाद भगवान को पालना झुलाने का लाभ संघवी हिरालाल कमलेश कुमार कावडीया परिवार ने लिया। कल्पवृक्ष का चढावा निलेश कुमार चण्डालीया, भगवान की बडी आरती का मुकेश कुमार लुणावत,मंगल दीपक वर्धमान खेमसरा, गौतम स्वामी की आरती जंयतिलाल चण्डालीया, ,दादा गुरूदेव की आरती प्रकाश चन्द्र घेवरलाल लुणावत, ,भैरवजी की आरती व महापर्व के दौरान आठो दिन तक भगवान की अंगरचना का चढावा वर्धमान खेमसरा परिवार छोटी सरवा वालो ने लिया । जन्म वाचन की प्रभावना का संघवी हिरालाल कमलेश कुमार कावडीया परिवार की तरफ से दी गई। चढावो की बोलीयो के बाद महापर्व में सुरत व डीसा से धर्म आराधना करवानें आएं सुरेश भाई व यश भाई व ने भगवान जन्म वाचन किया जन्म वाचन पूर्ण होते ही श्रद्वालु खुशी से झुम उठे व भगवान का पालना झुलाया इसके बाद 108 दीपक से भगवान की भव्य आरती की गई। इस अवसर पर मुलनायक आदिनाथ भगवान, दादा गुरूदेव व सभी प्रतिमाओ की विवेक सेठिया, हितेन्द्र सेठिया व सनी चण्डालीया द्वारा आकर्षक अंगरचना की गई। इस अवसर पर गाजे बाजे के साथ वरघोडा निकाला गया जिसमें महिलाएं चैदह स्वप्नो एवं पालने को सिर पर धारण कर व युवा जयकारे लगाते हुएं चल रहे थे। वरघोडा केशरीयानाथ मंदिर से प्रारम्भ होकर मुख्य मार्गो से होता हुआ पुनः मंदिर परिसर पहुॅचा। रात्री में भक्ती तथा तरूण परिषद द्वारर धार्मिक अंताक्षरी का आयोजन हुआ। इस अवसर पर,मूर्तिपूजक संघ अध्यक्ष कमलेश कावडीया, उपाध्यक्ष रमेश गादिया, वर्धमान स्थानकवासी श्रावक संघ अध्यक्ष राजेन्द्र गादिया, अशोक श्रीमार, रजनीकांत खाब्या सहित बडी सख्या में श्रद्वालु मोजुद थे। इस अवसर पर सकल संघ के स्वामी वात्सल्य का लाभार्थी समाज ने किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।