कंदरोडी में फेक्ट्री से निकलने बाले काले धुएं का गुबार “लोगों को कर रहा बीमार
February 29th, 2020 | Post by :- | 195 Views

कांगड़ा, लोकहित एक्सप्रैस ( गगन ललगोत्रा )  ।      प्रदूषण एक ऐसी समस्या है जिसे इंसान चिड़चिड़ा और की बीमारियों का शिकार हो जाता है चाहे प्रदूषण किसी भी प्रकार का हो इंसान को नरक नुमा जीवन जीने के लिए मजबूर बना देता है जिस से ग्रसित होकर इंसान घुट घुट कर मर जाता है प्रदूषण किसी भी प्रकार का हो इंसान के लिए बड़ा घातक है प्रदूषण संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार वह प्रशासन और कई देश इसके लिए लड़ रहे हैं लेकिन इनकी रोकथाम कागजों तक ही सीमित रह जाती है और इन प्रदूषण को फैलाने वाले उद्योग अपनी मनमर्जी चला कानून व नियमों की धज्जियां उड़ा पैसे से अपनी जेबे गर्म करते रहते हैं उनको किसी भी प्रकार का फर्क नहीं पड़ता कि वे लोगों की जिंदगी यों से खेल रहे हैं ऐसा ही वाक्य कंदरोडी में लगी आई डी सूद नाम से चल रहे एक इस्पात उद्योग द्वारा किया जा रहा है जिससे वहां के आसपास के लोग काफी परेशान है लोगों का कहना है कि दिन रात उद्योग से निकलने वाला धुया उनको सांस लेने में परेशानी करता है और बच्चे रात को सो तक नहीं पाते जिसकी शिकायत हमने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन योजना में की थी जिसका हल किए बिना उस.शिकायत को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है।

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन योजना से नहीं होता कोई फायदा

कंदरोडी स्थानीय रणधीर सिंह धीरा का कहना है कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन योजना 11 00 नंबर लोगों को खुश करने के लिए बनाया गया है जिससे लोगों की किसी भी प्रकार की समस्या को हल नहीं किया जाता बल्कि जिसकी शिकायत की होती है उसको बता दिया जाता है कि आपकी शिकायत किसने की है हमने भी इस संबंध में 1100 नंबर पर 24 जनबरी को इस धुंए की समस्या की शिकायत की थी ओर उस समय एक अधकरी भी आया था और लगभग 40 लोगो के अलग अलग फार्म भरकर ओर हत्क्षर करवा कर ले गया था और फिर 24 फरबरी को मेसेज भेज
हमारी उस शिकायत को बिना समाधान किए बंद कर दिया गया

यह आया था 1100 नंबर से मेसेज,,,

,,,आपकी शिकायत क्रमांक 152396 पर प्राप्त समाधान को अंतिम निराकरण मानते हुए आपकी शिकायत को वरिष्ठ स्तर से बंद किया जा रहा है,,

वायु प्रदूषण से हो रहा ओजोन परत को नुकसान

सभी देश वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए कई प्रयास व योजनाएं बना रहे हैं की हमारा वायुमंडल स्वस्थ रह सकें लेकिन कुछ एक उद्योग नियमों की धज्जियां उड़ा ओजोन परत को नुकसान पहुंचा रहे हैं इसलिए सरकार को सभी उद्योगों की समय-समय पर जांच कर उन पर सही तरीके से उद्योग चलाने की परमिशन देनी चाहिए नहीं तो हमें घातक परिणाम भुगतने होंगे जिससे कई प्रकार की बीमारियां का सामना करना पड़ेगा
वायु प्रदूषण से निमोनिया , अस्थमा ,फेफड़े का कैंसर,सांस लेने में परेशानी संबंधी कई बीमारियां हो सकती हैं जो मनुष्य को मरने को मजबूर कर देती है

क्या कहते है पॉल्यूशन बोर्ड एक्शन धर्मशाला,,

समय-समय पर उद्योगों की जांच की जाती है अगर इस प्रकार की कोई समस्या आ रही है तो जल्द इस पर कार्रवाई की जाएगी और नई तकनीक के यंत्र लगवाए जाएंगे जिससे वायु प्रदूषण ना हो

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।