रेडियो मेवात ने जिला प्रशासन और महिल एवं बाल विकास विभाग के सहयोग से सालाहेड़ी कॉलेज में महिला जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया।
February 29th, 2020 | Post by :- | 83 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।   रेडियो मेवात ने जिला प्रशासन और महिल एवं बाल विकास विभाग के सहयोग से सालाहेड़ी कॉलेज में महिला जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम में बतौर के रुप मुख्यतिथि एसडीएम प्रदीप अहलावत ने शिरकत की। महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि जिला प्रशासन व सरकार द्वारा महिलाओं के लिए काफी योजनाएं चलाई हुई है। उन्होंने कहा कि स्कूल व कालेज जाने वाली लड़कियों की सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन द्वारा दुर्गा शक्ति एप चलाया हुआ है, अगर किसी भी पढऩे वाली लडकी को कोई आने-जाने में या रास्ते में किसी प्रकार की कोई परेशानी हो तो वह महिला हैल्प लाईन नंबर 1091 पर सम्पर्क कर सकती है। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को अपनी सुरक्षा और अधिकारों के प्रति जागरुक करना था। उन्होंने दहेज प्रथा का विरोध करते हुए कहां कि मेवात की ज्यादातर महिलाएं इसी वजह से हिंसा की शिकार है। अगर माता पिता बेटियों के दहेज से हटकर उनकी शिक्षा पर खर्च करें तो आगे जाकर बेटियों का भविष्य उज्जवल हो सकता है।
रेडियो मेवात और स्मार्ट की संस्थापक अर्चना कपूर ने महिलाओं से आह्वान कि वे अपने अधिकारों को लेकर ज्यादा से ज्यादा जागरुक हो ताकि अपने हक को जान सके और अत्याचारों के खिलाफ आवाज उठा सकें। उन्होंने कहा कि समाज में महिलाओं की शिक्षा से लेकर सुरक्षा तक सरकार की तरफ से तमाम योजनाएं संचालित की गई हैं। उन्होंने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से महिला पुलिस थाने के सामने वन स्टॉप सैन्टर बनाया हुआ है, किसी भी पीडि़त महिला द्वारा मदद मांगने पर तुरंत मदद प्रदान की जाती है।                           
महिला एवं बाल विकास विभाग अधिकारी ईशा रानी ने भी इस कार्यक्रम में मौजूद रही और उन्होंने उनके विभाग द्वारा दी जा रही सेवाओं के बारे में महिलाओं को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर उनका विभाग रेडियो मेवात के साथ मिलकर काम कर रहा है ताकि महिलाओं को उनके अधिकारों और सुरक्षा को लेकर जागरुक किया जा सके।                          
महिला थाना नूंह से इंसपेक्टर कैलाश ने भी महिलाओं को संबोधित करते हुए हरियाणा सरकार द्वारा संचालित हैल्प लाइन नंबर 1091 की जानकारी दी और कहा कि महिलाएं किसी भी उत्पीडऩ की स्थिति में इस नंबर पर कॉल कर सकती है और साथ ही दुर्गाशक्ति एप का भी इस्तेमाल कर सकती है।
      जिला महिला संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध अधिकारी, मधू जैन ने कहा कि अगर किसी भी महिला के साथ किसी भी प्रकार का अत्याचार हो रहा है चाहे वो दहेज से जुड़ा हो या बाल विवाह से संबंधित, आप सीधा हमारे ऑफिस मे आकर संपर्क कर सकती है , या फिर आप रेडियो मेवात के माध्यम से भी अपनी बात रख सकती है।
कार्यक्रम में एक नुक्कड नाटक की प्रस्तुती भी की गई जिसमें दहेज के कुप्रभाव को लेकर अक्की वक्की टीम ने महिलाओं को जागरुक किया।
       कार्यक्रम में मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी प्रनीत जसवानी , डीएलएसए से एडवोकेट फातिमा, सालाहेड़ी कॉलेज के प्रिंसिपल रफीक़ अहमद, वन स्टोप सेंटर की टीम और रेडियो मेवात की टीम मौजूद रही।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।