कैथल से अंतरराज्यीय ठग गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार , बैंक उपभोक्ताओं के डुप्लीकेट चेक बनाकर खाते से करोड़ों रुपए करते थे साफ, बैंक मैनेजर की सावधानी के कारण पुलिस के हाथों चढ़ा गिरोह का एक सदस्य
February 29th, 2020 | Post by :- | 2728 Views
कैथल, लोकहित एक्सप्रैस, ( विशाल चौधरी )     ।    कैथल से अंतरराज्यीय ठग गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार , बैंक उपभोक्ताओं के डुप्लीकेट चेक बनाकर खाते से करोड़ों रुपए करते थे साफ, बैंक मैनेजर की सावधानी के कारण पुलिस के हाथों चढ़ा गिरोह का एक सदस्य
पुलिस ने पंजाब नेशनल बैंक के मैनेजर की शिकायत पर अंतरराज्यीय गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार किया है यह गिरोह बैंक उपभोक्ताओं के नकली चेक बुक बनाकर खातों से करोड़ों रुपए के हाथ साफ कर जाता था लेकिन बैंक मैनेजर के सूझबूझ के कारण इस गिरोह का एक सदस्य पुलिस के हाथों से चढ़ गया। मामला इस प्रकार से है की बिहार की एक कंपनी के 2 चेक पंजाब नेशनल बैंक कैथल की शाखा में क्लियर होने के लिए आए जिनकी राशि ₹3 करोड़ 50 लाख और 2 करोड़ 28 लाख थी । बैंक मैनेजर को शक होने पर पार्टी को फोन किया। लेकिन यह गिरोह इतना शातिर था कि पार्टी के मोबाइल भी हैक किये हुए थे। लेकिन मैनेजर की सूझबूझ के आगे इनकी सारी योजना विफल हो गई क्योंकि बैंक मैनेजर ने संबंधित ब्रांच के माध्यम से सम्पर्क किया तब पूरा मामले का खुलासा हुआ और बैंक मैनेजर ने पुलिस को सूचित किया तब पुलिस ने आरोपी की बैंक बुलाने के लिए बोला और बैंक मैनेजर ने आरोपी को पैसे ले जाने के लिए फोन किया। जैसे ही आरोपी बैंक आया तो बैंक में मौजूद पुलिस ने उसे गिरफ़्त में ले लिया। जांच के बाद पता चला कि आरोपी ने संबंधित फर्म का  2 करोड़ 28 लाख एक और नकली चेक तैयार कर खाते में कलरिंग के लिए लगाया हुआ है ।
हालांकि इस मामले में बैंक के मैनेजर ने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया लेकिन कहां खड़े एक व्यक्ति ने बैंक मैनेजर की वीडियो बना ली और मीडिया को सौंप दी।
थाना शहर प्रभारी प्रदीप कुमार ने बताया बैंक की तरफ से शिकायत आई थी जिसमें 5 करोड़ 78 लाख  के नकली चेक बैंक में क्लियर होने के लिए आए हैं जिन की राशि 3 करोड़ 50 लाख और 2 करोड़ 28 लाख है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्त में ले लिया है और पूछताछ के उपरांत ही पता चलेगा कि इस गिरोह के कितने सदस्य हैं जबकि पकड़े गए आरोपी का पहले भी आपराधिक इतिहास रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।