हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड: कम्पार्टमैंट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के तीन अवसर मिलेंगे।
February 28th, 2020 | Post by :- | 652 Views

कुरुक्षेत्र, लोकहित एक्सप्रेस, ( सैनी ) ।     हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने परीक्षार्थियों के हितों को ध्यान में रखते हुए लिया ऐतिहासिक फैसला लिया गया।

इस आशय की जानकारी देते हुए बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह व सचिव श्री राजीव प्रसाद, ह.प्र.से. ने संयुक्त रूप से एक प्रेस वक्तव्य में आज यहां बताया कि सैकेण्डरी एवं सीनियर सैकेण्डरी (नियमित/स्वयंपाठी) वार्षिक परीक्षा मार्च-2020 की परीक्षा में कम्पार्टमैंट अर्जित करने वाले परीक्षार्थी आगामी लगातार तीन अवसरो जुलाई, सितम्बर तथा अगले वर्ष मार्च में कम्पार्टमैंट की परीक्षा में प्रविष्ठ हो पायेंगे। इससे परीक्षार्थी को एक ही वर्ष में कम्पार्टमैंट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के तीन अवसर मिलेंगे। जिससे सैकेण्डरी परीक्षा तीसरे अवसर में भी कम्पार्टमैंट उत्तीर्ण करने पर कक्षा ग्यारहवीें में प्रवेश का पात्र होगा।

बोर्ड अध्यक्ष ने आगे बताया कि मार्च-2020 की परीक्षा में कम्पार्टमैंट अर्जित करने वाले परीक्षार्थी यदि जुलाई-2020 में कम्पार्टमैंट की परीक्षा उत्तीर्ण करते हैं तो ऐसे परीक्षार्थियों को आगामी लगातार दो सत्रों (सितम्बर एवं मार्च माह) में आयोजित की जाने वाली आंशिक अंक सुधार (एक से चार विषयों तक)/पूर्ण विषय अंक सुधार की परीक्षा में प्रविष्ठ करवाने बारे भी निर्णय लिया गया है। उन्होंने आगे बताया कि सितम्बर एवं मार्च माह में कम्पार्टमैंट/आंशिक अंक सुधार/पूर्ण विषय अंक सुधार/अतिरिक्त विषय/पूर्ण विषय (स्वयंपाठी) की परीक्षा आयोजित करवायी जाएगी। इसके अतिरिक्त जो परीक्षार्थी सितम्बर माह में कम्पार्टमैंट की परीक्षा उत्तीर्ण करेगा वह आगामी वार्षिक परीक्षा में आंशिक अंक सुधार/पूर्ण विषय अंक सुधार में से किसी एक परीक्षा में प्रविष्ठ हो सकता है।

डॉ. सिंह ने बताया कि 03 मार्च से प्रारम्भ होने वाली परीक्षाओं में परीक्षार्थी परीक्षा केन्द्र पर परीक्षा से 30 मिनट पूर्व पहुंचना सुनिश्चित करेगें। सभी नियमित परीक्षार्थी विद्यालय वर्दी में विद्यालय आई.डी. कार्ड/मूल आधार कार्ड एवं स्वयंपाठी परीक्षार्थी मूल आधार कार्ड सहित परीक्षा केन्द्र पर आये। यदि किसी दिव्यांग परीक्षार्थी को लेखक की सुविधा लेनी है तो परीक्षा आरम्भ होने से पूर्व बोर्ड कार्यालय में सम्बन्धित दस्तावेज लेकर लेखक हेतु अनुमति पत्र लें। बोर्ड की अनुमति पत्र के बिना लेखक मान्य नही होगा।

श्री राजीव प्रसाद ने परीक्षार्थियों को निर्देश देते हुए कहा कि प्रवेश-पत्र पर किसी भी प्रकार की लेमिनेशन न करवाई जाये क्योंकि प्रवेश-पत्र पर प्रतिदिन पर्यवेक्षक के हस्ताक्षर तथा उनकी उपस्थिति में परीक्षार्थियों के हस्ताक्षर भी होने अनिवार्य हैं।

इस सम्बन्ध में और अधिक जानकारी देते हुए बोर्ड सचिव ने बताया कि सभी विद्यालय मुखिया विद्यालय की लॉगिन आई.डी. पर अपलोड किये गये आवश्यक दिशा-निर्देशों को पढ़ते हुए उनका पालन करने का प्रमाण-पत्र देते हुए प्रवेश-पत्र डाउनलोड करेें। विद्यालय मुखिया/स्वयंपाठी परीक्षार्थी प्रवेश-पत्र का रंगीन प्रिंट आऊट ए-4 साईज पेपर पर ही निकालना सुनिश्चित करे। प्रवेश-पत्र का रंगीन प्रिंट लेने उपरांत विवरण भली-भांति जांच लें। यदि विवरणों में कोई त्रुटि है तो तुरंत बोर्ड कार्यालय में संशोधन करवा लें। परीक्षा समाप्ति उपरांत फोटो, हस्ताक्षर सम्बंधी त्रुटि ठीक नहीं की जायेगी।

उन्होंने आगे बताया कि प्रवेश-पत्र सभी विद्यालय मुखिया बोर्ड वैबसाईट www.bseh.org.in पर यूजर आई.डी. व पासवर्ड से लॉगिन करते हुए उनके विद्यालय में अध्ययनरत परीक्षार्थियों के प्रवेश-पत्र डाउनलोड कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त स्वयंपाठी (कम्पार्टमैंट, अंक सुधार, अतिरिक्त विषय एवं स्वयंपाठी पूर्ण विषय) परीक्षार्थी भी अपना प्रवेश-पत्र बोर्ड वैबसाईट पर दिये गये लिंक से पिछले अनुक्रमांक/नाम, पिता का नाम, माता का नाम भरते हुए डाउनलोड कर सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।