डीसी अशोक कुमार ने अम्बाला शहर स्थित सैफ हाउस का किया दौरा–व्यवस्थाओं बारे सम्बधिंत अधिकारियों से जानकारी लेते हुए जरूरी कार्य शीघ्र पूरा करने के दिए निर्देश।
February 26th, 2020 | Post by :- | 67 Views

अम्बाला: अशोक शर्मा

उपायुक्त अशोक कुमार ने बुधवार को अम्बाला शहर में स्थित सेफ हाउस का दौरा किया और वहां पर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उपायुक्त ने सेफ हाउस में सुरक्षा व्यवस्था, शौचालय की साफ-सफाई, पेयजल, भवन के रख-रखाव सम्बन्धी व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया और मौके पर मौजूद अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे अपने-अपने विभागों से सम्बध्ंिात सभी कार्य निर्धारित मापदण्ड के तहत पूरे करवाएं ताकि सेफ हाउस में रखे जाने वाले जोड़े अच्छा महसूस करें।
उपायुक्त ने निरीक्षण के दौरान नगर निगम अधिकारी रोहताश बिश्नोई को निर्देश दिये कि सेफ हाउस परिसर में सफाई व्यवस्था के साथ-साथ पानी निकासी का भी सुचारू रूप से प्रबन्ध किया जाए।  कार्यालय परिसर में ऐसी व्यवस्था की जाये कि वर्षा के दिनो में यहां पानी न जमा होने पाये। उन्होंने यह भी कहा कि परिसर में साफ-सफाई व्यवस्था का विशेष तौर पर ध्यान रखा जाये। उन्होंने अतिरिक्त उपायुक्त जगदीप ढांडा को निर्देश दिए कि समुचित व्यवस्था पर ध्यान रखते हुए सभी कार्य सुचारू रूप से करवाएं।
उपायुक्त ने पुलिस अधीक्षक से कहा कि यहां की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता होनी चाहिए ताकि आपसी सहमति से विवाह करने उपरांत सुरक्षा प्राप्त कर यहां आने वाले जोड़ो को किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता को निर्देश दिये कि यहां के कमरों, शौचालय तथा सिक्योरिटी गार्ड रूम सहित परिसर में मरम्मत कार्य प्राथमिकता के आधार पर करवाए। सुरक्षा की दृष्टिï से जहां पर जाली इत्यादि लगवाने के जरूरत हो वह भी लगवाई जाए। इसमें किसी प्रकार की देरी एवं लापरवाही न बरती जाये। उन्होंने सैनिक बोर्ड के अधिकारी को निर्देश दिये कि इस भवन में पानी एवं वाटर कूलर की व्यवस्था करवाई जाये और भवन का रख-रखाव ठीक प्रकार से किया जाये।
इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल, अतिरिक्त उपायुक्त जगदीप ढांडा, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिह, नगर निगम अधिकारी रोहताश, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता जगबीर सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।